Press: Salient Points of Speech by Shri Amit Shah Addressing Public Meeting at Dharmatala, Kolkata

भारतीय जनता पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष श्री अमित शाह के कोलकाता रैली में भाषण के मुख्‍य अंश

भारतीय जनता पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष श्री अमित शाह ने रविवार को कोलकाता के विक्‍टोरिया हाउस पर एक विशाल जन सभा को संबोधित किया। ‘विजय दिवस’ व ‘उत्‍थान दिवस’ के रूप में आयोजित हुई इस जन सभा में लाखों की तादाद में लोग उपस्थित हुए। श्री शाह ने इस अवसर पर पश्चिम बंगाल की जनता से तृणमूल कांग्रेस को सत्‍ता से उखाड़ फेंकने और राज्‍य में अगली सरकार भाजपा के नेतृत्‍व में बनाने का आह्वान किया।

श्री शाह ने कहा, “दीदी (ममता बनर्जी) यहां सभा की अनुमति नहीं देना चाहती थीं। दीदी ने मंच छोटा करवा दिया ताकि कम लोग बैठ पाएं। दीदी आप मंच तो छोटा कर सकती हो मगर बंगाल के लोगों के दिल में बीजेपी ने जो जगह बनाई है उससे बीजेपी को आप निकाल नहीं सकतीं। यह रैली दिखा रही है कि तृणमूल सरकार की उलटी गिनती शुरु हो गई है। 30 नवंबर को भारतीय जनता पार्टी की पश्चिम बंगाल यूनिट छह साल से बीजेपी उत्‍थान दिवस मना रही है। लेकिन अगले 30 नवंबर को बीजेपी उत्‍थान दिवस नहीं बल्कि तृणमूल का पतन दिवस होगा। यह निश्चित दिखाई दे रहा है। जो सरकार जन भावनाओं और जन सैलाव को रोकना चाहती है, वह चाहे किसी की भी सरकार हो लंबी नहीं चलती। वह सरकार हमेशा गिरती है।”

श्री शाह ने कहा कि पश्चिम बंगाल आज ऐतिहासिक मोड़ पर है। 27 साल के कम्‍युनिस्‍ट शासन को हटाने के बाद बड़ी आशा से लेागों ने तृणमूल कांग्रेस को चुना था। इस दृष्टि से चुना था कि बंगाल का विकास होगा, गांव में रोजगार मिलेगा, पीने का पानी पहुंचेगा, विकास के कार्य होंगे लेकिन साढ़े तीन साल बाद बंगाल वहीं का वहीं रह गया और कुछ ज्‍यादा पिछड़ गया।

श्री शाह ने कहा, ‘‘तृणमूल के सांसद संसद के अंदर काली शॉल ओढ़कर और काला छाता लेकर जाते हैं। वे ब्‍लैकमनी के विरोध में प्रदर्शन करते हैं। मैं पूछना चाहता हूं ममता जी आप सांसदों को तो कालेधन के विरोध में भेज रही हैं लेकिन शारदा चिटफंड में जो पैसा गया है वह ब्‍लैक है या व्‍हाइट है उसके दोषियों को आप क्‍यों बचा रही हैं।’’

श्री शाह ने कहा कि ममता बनर्जी ने सिंगूर का आन्‍दोलन किया था। वहां सिर्फ 1200 लोगों की जमीन गई थी। ममता ने आमरण अनशन किया था। आज शारदा चिटफंड और बाकी चिटफंड में 17 लाख से ज्‍यादा लोगों के पैसे फंसे, ममता दीदी रोड पर आन्‍दोलन करने क्‍यों नहीं आतीं। जिन लोगों के पैसे फंसे हैं उनके लिए आपकी कोई जिम्‍मेदारी है या नहीं। जिन लोंगों के पैसे फंसे हैं उनके लिए आपके मन में चिंता है या नहीं। चिटफंड के साथ आखिर कौन लोग जुड़े हैं। पहले तो आरोप लगता था लेकिन अब सिद्ध हो गया है कि टीएमसी के नेता ही इस चिटफंड को चलाने में मदद करते थे।

श्री शाह ने कहा कि ममता आरोप लगा रहीं हैं कि सीबीआई उनकी पार्टी के नेताओं को फंसा रही है। वह ममता को चुनौती देते हैं कि सीबीआई फसां रही है या नहीं यह तो अदालत तय कर देगी। ममताजी अगर आप में हिम्‍मत तो कह दीजिए कि जिन लोगों को सीबीआई ने पकड़ा है वे निर्दोश हैं। जिन लोगों ने लाखों लोगों के पैसे का गबन किया है, ममता उन्‍हें बचाना चाहती हैं। स्रुजोय घोष कौन हैं, कुणाल बाबू कौन हैं, ममता जी की पेंटिंग को किसने खरीदा था। ममता जी आप बताइये कि श्‍यामल सेन कमीशन को आपने क्‍यों बंद कर दिया। आप बताइये कि टीएमसी के नेताओं को शारदा चिटफंड से फायदा हुआ है या नहीं । अगर हुआ है तो आप कैसे कह सकती हैं कि सीबीआई निर्दोश लोगों को फंसा रही हैं। यही ममता बनर्जी जो आमरण अनशन पर बैठीं थीं, आज चिटफंड के आरोपियों को बचाने के लिए आगे आ रहीं है। यह परिवर्तन बंगाल की जनता अच्‍छी तरह से जानती है।

श्री शाह ने कहा कि ममता बनर्जी ने चिटफंड के आरोपियों को बचाने के साथ ही देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ किया है। ममता ने बर्धमान धमाकों के आरोपियों को बचाने की कोशिश की है। दो अक्‍टूबर को बर्धमान में बम विस्‍फोट में जिस व्‍यक्ति की मौत हुई वह पहले भी आरोपी रहा है, उसे पश्चिम बंगाल पुलिस ने क्‍यों नहीं पकड़ा। जब एनआइए इस मामले की जांच कर रही है तो आप आज भी वोट बैंक की राजनीति कर रही हैं। आप किसको बचाना चाहती हैं। बांग्‍लादेशी घुसपैठियों के आधार पर आप बंगाल पर शासन नहीं कर सकतीं। बांग्‍लादेशी घुसपैठियों ने आपको बंगाल का मुख्‍यमंत्री नहीं बनाया है। पश्चिम बंगाल की जनता ने आपको मुख्‍यमंत्री बनाया है। अगर आप बांग्‍लादेशी घुसपैठियों के आधार पर ही तृणमूल कांग्रेस को बचाना चाहती हैं तो मुझे कहने में कोई संकोच नहीं है कि ममताजी आपकी उल्‍टी गिनती शुरु हो गई है।

श्री शाह ने कहा कि बर्धमान में आरडीएक्‍स पकड़ा गया। एनआइए इसकी जांच कर रही है। एनआइए को रोकने के लिए संघीय ढांचे का सवाल पैदा किया जा रहा है। एनआइए को काम नहीं करने दिया जा रहा है। टीएमसी के इतने नेता इस विस्‍फोट के साथ जुड़े हैं। आने वाले चुनाव में ममताजी को इसका जवाब देना होगा। बर्धमान के पीछे जो लोग लगे हैं उनको पैसे किसने दिए। तब इसकी जांच शुरु हुई तो आपको सुनकर आश्‍चर्य होगा कि शारदा चिटफंड के पैसे बम ब्‍लाट के लिए उपयोग हुए। ये दोनों जांच एक मोड़ पर जाकर मिल रही हैं। सीबीआई इस मामले की भी जांच कर रही है।

श्री शाह ने कहा कि ममता जी वोट बैंक की राजनति जरूर कीजिए मगर वोट बैंक की राजनीति के कारण देश की सुरक्षा को ताक पर मत रखिए, बांग्‍लादेशी घुसपैठियों को शरण देना आप बंद कर दीजिए। देश की सीमाओं को सुरक्षित रखना है तो बांग्‍लादेशी घुसपैठियों को शरण मत दीजिए। जो यहां पर ब्‍लाट करने वाले हैं, उन्‍हें बांग्‍लादेश की जनता भी स्‍वीकार नहीं करती। ममताजी आप इन्‍हें क्‍यों बचाना चाहती हैं।

श्री शाह ने कहा कि आने वाले समय में बंगाल में बहुत से राजनीतिक बदलाव होने वाले हैं। श्री शाह ने पश्चिम बंगाल के मतदाताओं से अपील की कि वे बंगाल को भी विकास यात्रा के साथ जोड़ दें। आम चुनाव में जीत के बाद महाराष्‍ट्र और हरियाणा में चुनाव हुए वहां भाजपा जीती। अब झारखंड और जम्‍मू कश्‍मीर में चुनाव हो रहे हैं वहां भाजपा जीतेगी। दिल्‍ली और बिहार भी भाजपा जीतकर दिखाएगी। लेकिन भाजपा सच्‍ची जीत तभी पा सकती है जब पश्चिम बंगाल में भाजपा की सरकार बने और भाजपा का मुख्‍यमंत्री बने। मोदीजी का नारा- ‘कांग्रेस मुक्‍त भारत’ करने का है, मोदीजी का नारा ‘तृणमूल कांग्रेस मुक्‍त पश्चिम बंगाल’ बनाने का भी है, इसे आप लोगों को सफल बनाना होगा।

देश के पूर्वी और पश्चिमी क्षेत्र में विकास की विषंगतियों को उजाकर करते हुए श्री शाह ने कहा कि पूर्व में विकास तभी होगा, जब पश्चिम बंगाल विकसित हो। पश्चिम बंगाल का विकास हो, रोजगार, शिक्षा और स्‍वास्‍थ्‍य की सुविधा मिले, दुनिया के उद्योग रोजगार लगाएं। बंगाल के किसान को इरीगेशन का पानी मिले। बंगाल के युवा को रोजगार मिले तभी पूर्वी क्षेत्र विकसित हो सकता है।

श्री शाह ने कहा कि बंगाल की जनता ने कम्‍युनिस्‍टों और टीएमसी को मौका दिया लेकिन विकास नहीं हुआ। आज मोदीजी के नेतृत्‍व में देश आगे बढ़ रहा है तृणमूल कांग्रेस के शासन में बंगाल पिछड़ रहा है। अगर मोदीजी के साथ पश्चिम बंगाल का विकास करना है तो यहां तृणमूल कांग्रेस को सत्‍ता से उखाड़कर भाजपा का मुख्‍यमंत्री बनाना होगा। अगर एक बार पश्चिम बंगाल की जनता निर्णय कर ले कि मोदीजी के साथ जुड़ना है। मैं कहता हूं कि पांच साल में भाजपा पश्चिम बंगाल को पश्चिम के प्रदेशों की तरह संपन्‍न बनाकर देश का नंबर वन राज्‍य बना देगी।

मोदी सरकार की छह माह की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए श्री शाह ने कहा कि मोदीजी के नेतृत्‍व में बारंबार पेट्रोल के दाम कम हुए हैं। साथ ही महंगाई भी कम हुई है। तृणमूल कांग्रेस यूपीए की जिस सरकार का समर्थन करती थी क्‍या उसके शासन में कभी पेट्रोल के दाम कम हुए थे।

प्रधानमंत्री जन धन योजना का जिक्र करते हुए शाह ने कहा कि ममता बनर्जी सरकार इस योजना को लागू करने में केंद्र का सहयोग नहीं कर रही जिसके चलते करोड़ों लोगों के बैंक खाते नहीं खुल रहे हैं। ममता बनर्जी केंद्र की योजनाओं में रोडे़ अटका रहीं हैं, बंगाल का विकास होने से रोक रहीं हैं।

श्री शाह ने अगले साल मई में होने वाले कोलकाता नगर निगम के चुनाव में भारी बहुमत से भाजपा को जिताने का आग्रह भी कोलकातावासियों से किया। उन्‍होंने कोलकाता नगर निगम के चुनाव में तृणमूल कांग्रेस को उखाड़ फेंकने का आह्वान किया। पश्चिम बंगाल को अगर विकास की दौड़ में सबसे आगे ले जाना है तो शुरुआत कोलकाता से करनी होगी। उन्‍होंने कहा कि भाजपा की असली विजय तभी होगी जब पश्चिम बंगाल में भाजपा की जीत होगी।

श्री शाह ने कहा कि कोई भी पार्टी अब इमोशनल ब्‍लेक मेल करके, सादगी का नाटक करके, वोट बैंक की राजनीति करके, बांग्‍लादेशी घुसपैठियों को पनाह देकर बंगाल की जनता को मूर्ख्‍ नहीं बना सकती। पश्चिम बंगाल की जनता को सुशासन और विकास चाहिए। इसलिए पश्चिम बंगाल में ऐसी सरकार चाहिए जो राष्‍ट्रभक्‍त हो, जो बर्धमान के गुनहगारों को बचाए नहीं फांसी के तख्‍ते पर चढ़ा दे। एक ऐसी सरकार चाहिए जो भ्रष्‍टाचार को रोके, जो शारदा चिटफंड के लोगों को बचाए नहीं उन्‍हें सलाखों के पीछे डाल दे।

इस अवसर पर पश्चिम बंगाल के प्रभारी भाजपा के राष्‍ट्रीय सचिव सिद्धार्थनाथ‍ सिंह, भाजपा के वरिष्‍ठ नेता एस एस अहलूवालिया, चंदन मित्रा और पश्चिम बंगाल की इकाई के कई अन्‍य वरिष्‍ठ नेता मौजूद रहे। श्री शाह की मौजूदगी में रैली में आए हजारों समर्थकों ने मोबाइल के माध्‍यम से भाजपा की सदस्‍यता ली।


Download PDF