Press: Shri Amit Shah's Three Day Visit to North-East

राष्ट्रीय अध्यक्ष, श्री अमित शाह का तीन दिवसीय पूर्वोत्तर राज्यों के प्रवास का द्वितीय चरण प्रारम्भ सिक्किम, मेघालय और अरूणाचल प्रदेश का करेंगे प्रवास

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह तीन दिवसीय पूर्वोत्तर राज्यों के प्रवास पर आज प्रातः दिल्ली से रवाना हुए। वे इन तीन दिनों में सिक्किम, मेघालय और अरूणाचल प्रदेश का प्रवास करेंगे।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष का पूर्वोत्तर राज्यों के प्रवास का यह द्वितीय चरण है। प्रथम चरण में उन्होंने मिजोरम, नागालैड और मणिपुर का चार दिवसीय प्रवास किया था। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार आज सिक्किम के गंगटोक स्थित चिंतन भवन में कार्यकर्ता समागम को सम्बोधित करेंगे। दिनांक 22 अप्रैल को मेघालय राज्य के शिलोंग में कार्यकर्ताओं की सभा को सम्बोधित करेंगे तथा 23 अप्रैल को उनका प्रवास अरूणाचल प्रदेश में होगा। यहां वे ईटानगर स्थित नयोकुम लेपांग मैदान में कार्यकर्ताओं की सभा को सम्बोधित करेंगे। इस दौरान भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह इन राज्यों के प्रमुख संगठन पदाधिकारियों के साथ बैठक कर संगठन विस्तार की योजना पर विस्तृत चर्चा भी करेंगे।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह का पूर्वोत्तर राज्यों का यह प्रवास संगठन के विस्तार की दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण प्रवास है। कुछ दिनों पूर्व दिल्ली में पूर्वोत्तर के सभी राज्यों के प्रदेश पदाधिकारियों से दिल्ली में इन राज्यों की समस्याओं एवं संगठन की संरचना को लेकर महत्वपूर्ण बैठकें हुई थीं। जिस बैठक में संगठन और प्रशासन को लेकर कई सुझाव आये थे तभी राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने अपने पूर्वोŸार राज्यों के प्रवास की घोषणा की थी।

श्री अमित शाह जी का पूर्वोत्तर राज्यों का प्रथम चरण का प्रवास काफी उत्साहजनक और उपलब्धियों भरा प्रवास रहा । इस दौरान कई जनसभाएं संगठनात्मक बैठकें एवं पदाधिकारियों की बैठकें आयोजित की गईं, साथ ही साथ कार्यकर्ताओं से राष्ट्रीय अध्यक्ष जी का सीधा संवाद व सम्पर्क स्थापित हुआ। श्री अमित शाह जी के अध्यक्ष बनने के उपरांत देशभर के जिला स्तरीय कार्यकर्ताओं से सीधे संवाद करने की कडी में पूर्वोत्तर राज्यों का यह महत्वपूर्ण प्रवास है। राष्ट्रीय अध्यक्ष जी के पूर्वोत्तर राज्यों के प्रवास के द्वितीय चरण को लेकर भी इन राज्यों के कार्यकर्ताओं में भारी उत्साह है उनके आगमन को लेकर पारंपरिक तरीकों से स्वागत कार्यक्रमों की जोरदार तैयारियां चल रही हैं।


Download PDF