Salient Points of Public Rally in Purnia Bihar

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह द्वारा बिहार के पूर्णिया की रैली में दिए गए उद्बोधन के मुख्य अंश

श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में हम बिहार में विकास का परिवर्तन लाने को कृतसंकल्प: अमित शाह
**************
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में विकास के जरिये गरीबों की सेवा और उनके जीवन-स्तर में सुधार लाना हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता है: अमित शाह
**************
श्री लालू यादव और श्री नीतीश कुमार जाति - पाति और अगड़े - पिछड़े की राजनीति कर समाज को बांटने की कोशिश कर रहे हैं: अमित शाह
**************
नीतीश कुमार ने केवल भाजपा, वरन पूरे राज्य की जनता और जनादेश के साथ विश्वासघात किया है: अमित शाह
**************
श्री लालू यादव जंगलराज एवं कांग्रेस भ्रष्टाचार का प्रतीक: अमित शाह
**************
जंगलराज तथा भ्रष्टाचार के साथ विकास कदापि संभव नहीं: अमित शाह
**************
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में हम बिहार को देश का सर्वोत्तम प्रदेश बनाकर आपको समर्पित करेंगें: अमित शाह
**************
भाजपा की परम्परा ही विकास की रही है: अमित शाह
**************
दुनिया में प्रधानमंत्री का मान-सम्मान देश की 125 करोड़ जनता का सम्मान है: अमित शाह
**************

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने आज शनिवार को बिहार के पूर्णिया की चुनावी सभा में एक विशाल जन-समुदाय को सम्बोधित किया और सीमांचल की जनता से बिहार से भ्रष्टाचार, जंगलराज और कुशासन की सरकार को जड़ से उखाड़ कर राज्य में भाजपा की अगुआई में दो-तिहाई बहुमत की राजग सरकार बनाने की अपील की।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा, "यह स्पष्ट दिख रहा है कि इस बार राजग बिहार में भारतीय जनता पार्टी की अगुआई में दो तिहाई की बहुमत से सरकार बनाने जा रही है।"

उन्होंने कहा कि एक तरफ श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में विकासवाद के सिद्धांत पर गरीबों, पिछड़ों, शोषितों और वंचितों के कल्याण के लिए काम करनेवाली एक मजबूत और प्रगतिशील गठबंधन है, वहीं दूसरी और राजद, जद (यू) और कांग्रेस का गठबंधन है जो जंगलराज और भ्रष्टाचार का प्रतीक है। उन्होंने कहा कि यह बिहार की जनता को तय करना है कि बिहार को कहाँ ले जाना है।

बिहार के गौरवशाली अतीत पर प्रकाश डालते हुए श्री शाह ने कहा कि एक समय विश्व के बड़े भू-भाग पर बिहार का शासन था, स्वतंत्रता प्राप्ति के संग्राम में भी बिहार का योगदान अद्वितीय रहा है, आजादी के बाद भी देश से भ्रष्टाचार और कुशासन को समाप्त करने की दिशा में क्रान्ति के बिगुल की शुरुआत बिहार से ही जयप्रकाश नारायण के नेतृत्व में शुरू हुआ था, बिहार डॉ राजेंद्र प्रसाद, बाबू जगजीवन राम और जननायक कर्पूरी ठाकुर की धरती है, लेकिन आज बिहार देश के अन्य राज्यों के विकास की तुलना में काफी पिछड़ गया है।

उन्होंने कहा कि राज्य में अभी भी गाँवों तक बिजली नहीं पहुँची है, अधिकतर गाँवों से पकी सड़कें अभी तक महरूम है, स्कूलों में शिक्षक और कमरे तक नहीं है, स्वास्थ्य सुविधाएं बदहाल हैं, शुद्ध पीने का पानी तक मयस्सर नहीं है, किसानों को उनके फसलों का उचित दाम तक नहीं मिल रहा है, सीमांचल में दशा तो और खराब है। उन्होंने कहा कि हम श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में बिहार में विकास का परिवर्तन लाने को कृतसंकल्प हैं।

श्री शाह ने कहा कि श्री लालू यादव और श्री नीतीश कुमार जाति - पाति और अगड़े - पिछड़े की राजनीति कर समाज को बांटने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जो लालू जी जंगलराज के प्रतीक थे, वह फिर से नीतीश के कंधे पर बैठकर बिहार में जंगल राज पार्ट - 2 लाने को तैयार हैं।

उन्होंने कहा कि हमने बिहार को जंगलराज से मुक्ति दिलाने की खातिर ही राज्य के विकास के लिए श्री नीतीश कुमार के हाथ में राज्य की कमान दी थी, क्योंकि हमारा लक्ष्य बिहार का विकास था, लेकिन नीतीश कुमार ने केवल भाजपा, वरन पूरे राज्य की जनता और जनादेश के साथ विश्वासघात किया है। उन्होंने कहा कि इस बार बिहार की जनता सचेत और सावधान है और वह इस बार मतदान के जरिये श्री नीतीश कुमार, लालू जी और कांग्रेस के गठबंधन को करारा जवाब देगी।

उन्होंने जनता से अपील की कि इस बार आप श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की अगुआई वाली राजग सरकार को पूर्ण बहुमत दें और मैं भरोसा दिलाता हूँ कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में हम बिहार को देश का सर्वोत्तम प्रदेश बनाकर आपको समर्पित करेंगें।

उन्होंने कहा कि भाजपा की परम्परा विकास की परम्परा रही है। उन्होंने कहा कि यह हमारी विकास की ही नीति है कि हम हर राज्यों में बारम्बार चुनकर आते हैं, चाहे वह गुजरात हो, या मध्य प्रदेश, राजस्थान, गोवा या फिर छत्तीसगढ़। उन्होंने कहा कि जनता को विश्वास है कि भाजपा ही एकमात्र ऐसी पार्टी है जो सबको साथ लेकर समाज के हरेक वर्ग के कल्याण के लिए सदैव प्रयत्नशील रहती है और इसलिए वह लगातार भारतीय जनता पार्टी को अपना मताधिकार देकर शासन का अवसर देती है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि श्री नीतीश कुमार और लालू जी गरीबी की बात करते हैं जबकि आजादी के बाद के 68 सालों में से 60 सालों तक सत्ता में रहनेवाली कांग्रेस के शासनकाल में बैंकों का राष्ट्रीयकरण करने का बावजूद देश के 60 करोड़ लोगों के पास अपना एक अदद बैंक खाता तक नहीं था। उन्होंने कहा कि बैंकों का राष्ट्रीयकरण गरीबों की भलाई के लिए किया गया था। उन्होंने कहा कि श्री नरेन्द्र मोदी के सत्ता में आने के 1 वर्ष में ही 15 करोड़ परिवारों के बैंक खाते खुल गए। श्री शाह ने कहा कि चाहे प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना हो, चाहे प्रधानमंत्री जीवन सुरक्षा बीमा योजना हो, या फिर छोटे-मोटे उद्यमियों की मदद के लिए श्री नरेन्द्र भाई मोदी जी द्वारा मुद्रा बैंक योजना की शुरुआत हो, हमने मात्र एक - सवा एक वर्ष के भीतर ही दलितों, शोषितों और वंचितों के लिए अनेक परिवर्तनात्मक कदम उठाये हैं और अनेकों परिवर्तनात्मक योजनाओं की नींव रखी है जिसके आशातीत परिणाम भी धरातल पर दिखने शुरू हो गए हैं। श्री शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में विकास के जरिये गरीबों की सेवा और उनके जीवन-स्तर में सुधार लाना हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि बिहार में बुनियादी ढांचों, रोजगारोन्मुखी शिक्षण संस्थाओं, अस्पताल एवं सड़कों के निर्माण के लिए तथा राज्य में उद्योग-धंधों के लिए जब प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र भाई मोदी ने 1.65 लाख करोड़ रूपए के विशेष पैकेज की घोषणा की तो इन लोगों के पास प्रधानमंत्री जी को धन्यवाद देने के लिए दो शब्द तक नहीं थे। उन्होंने कहा कि श्री नीतीश कुमार बिहार को विकास के लिए दिए गए विशेष पैकेज पर जनता को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि राजद, जद (यू) और कांग्रेस को जवाब देना होगा कि उन्होंने पिछले 10 वर्षों में बिहार के विकास के लिए क्या किया?

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि देश के अनेक राज्यों के विकास में बिहार का प्रभावी योगदान रहा है, लेकिन बिहार की सरकार ही निकम्मी है। उन्होंने कहा कि बिहार में प्राकृतिक संशाधनों के कमी नहीं, फिर भी बिहार विकास में काफी पीछे है। उन्होंने कहा कि सीमांचल बिहार में विकास के क्षेत्र में और पीछे चला गया है। उन्होंने कहा कि यदि भाजपा राज्य में सत्ता में आती है तो सबसे ज्यादा ध्यान सीमांचल के विकास पर केंद्रित किया जाएगा, क्षेत्र में उद्योग-धंधों की स्थापना की जाएगी और युवाओं को कौशल विकास के जरिये प्रशिक्षित किया जाएगा ताकि उन्हें रोजगार की तलाश में बाहर न जाना पड़े।

श्री शाह ने कहा कि श्री लालू यादव का शासनकाल जंगलराज का प्रतीक एवं कांग्रेस भ्रष्टाचार का प्रतीक है और जंगलराज तथा भ्रष्टाचार के साथ विकास कदापि संभव नहीं। उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि बिहार का चुनाव विकास के मुद्दे पर लड़ा जाय लेकिन महागठबंधन राज्य में विकास नहीं चाहती, उनका उद्देश्य किसी तरह से राज्य की सत्ता प्राप्त करना है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश की सीमायें सुरक्षित हैं और दुश्मनों को उन्हीं की भाषा में जवाब दिया जा रहा है। राहुल गांधी पर कटाक्ष करते हुए श्री शाह ने कहा कि राहुल गांधी सीमा पर पाकिस्तान की तरफ से हो रही गोलीबारी को लेकर श्री मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहते हैं कि तब और अब में कोई फर्क नहीं पड़ा है। श्री शाह ने कहा, "राहुल जी बहुत फर्क पड़ा है। पहले सीमाओं पर गोलीबारी की शुरुआत पाकिस्तानी सेना करती थी और खत्म भी वही करती थी। आज शुरुआत पाकिस्तानी सेना करती है लेकिन खत्म करती है भारतीय सेना। उन्होंने कहा कि अब गोली की जवाब गोले से दिया जाता है। राहुल जी को समझना चाहिए कि यह कितना बड़ा फर्क है।"

श्री शाह ने आगे बोलते हुए कहा कि आज भारतीय प्रधानमंत्री के स्वागत के लिए पूरा विश्व लालायित रहता है। उन्होंने कहा कि आज भारत के प्रधानमंत्री का दुनिया में मान-सम्मान बढ़ा है और यह मान-सम्मान देश की 125 करोड़ जनता का सम्मान है। उन्होंने कहा कि श्री नरेन्द्र भाई मोदी ने दुनिया भर में भारतीयों की प्रतिष्ठा बढ़ाई है। उन्होंने कहा कि परिवर्तन किसे कहते हैं, यह हमने श्री नरेन्द्र भाई मोदी के नेतृत्व में करके दिखाया है।

उन्होंने कहा कि अगर बिहार में 24 घंटे बिजली चाहिए, बिहार में निवेश चाहिए, महिलाओं का सम्मान चाहिए, कानून व्यवस्था अच्छी होनी चाहिए, रोजगार के पर्याप्त अवसर बनने चाहिए, यदि राज्य को अपराध, भ्रष्टाचार और जंगलराज से मुक्ति चाहिए तो बिहार की जनता को एकमत से फैसला करके राज्य में दो-तिहाई की पूर्ण बहुमत से भाजपा-नीत सरकार बनानी होगी। उन्होंने कहा कि श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में हम बिहार के विकास के लिए प्रतिबद्ध हैं।

(इंजी. अरुण कुमार जैन)
कार्यालय सचिव

Download PDF