Salient Points : Addressing "Samrasta Sammelan" on the Occasion of Dr. Ambedkar's birth Anniversary in Haridwar

Thursday, 14 April 2016


भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह द्वारा भारत रत्न बाबा साहब भीमराव अंबेडकर जी की जन्म जयंती की उपलक्ष्य में हरिद्वार में आयोजित समरसता सम्मलेन में दिए गए संबोधन के मुख्य बिंदु


प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्त्व में हम भारत रत्न बाबा साहब भीमराव अंबेडकर के सिद्धांतों पर चलते हुए देश के गाँव, गरीब, किसान, दलित और शोषित वर्गों के कल्याण एवं उनके जीवन-स्तर में उत्थान लाने के लिए प्रतिबद्ध हैं: अमित शाह
*************
भारतीय जनता पार्टी एकमात्र ऐसी पार्टी है जो दृढ़ निश्चय के साथ बाबा साहब के सपनों को साकार करने के लिए काम कर रही है: अमित शाह
*************
भाजपा का मूल उद्देश्य ही 'अंत्योदय' है जो बाबा साहब के सिद्धांतों के ही अनुरूप है: अमित शाह
*************
बाबा साहब ने एक ऐसे संविधान का निर्माण किया जिसमें सभी जाति, समुदाय, वर्ग, भाषा, प्रांत इत्यादि के लिए समान अधिकार को सुनिश्चित किया जा सके ताकि देश एकता और अखंडता के साथ विकास पथ पर आगे बढ़ते हुए विश्व का नेतृत्त्व कर सके: अमित शाह
*************
हमारा संविधान विश्व का सर्वश्रेष्ठ संविधान है: अमित शाह
*************
अपमान झेलने के बाद भी संविधान बनाते वक्त बाबा साहेब ने किसी के प्रति बदले का भाव नहीं रखा, ये उनकी महानता को दर्शाता है: अमित शाह
*************
आजकल बहुत सारी पार्टियां अपने निहित स्वार्थों की पूर्ति और राजनीतिक लाभ के लिए बाबा साहब भीवराव अंबेडकर के नाम पर राजनीति कर रही हैं: अमित शाह
*************
यदि हमें भारत उदय करना है, देश के जन-जन तक सभी मूलभूत सुविधाओं को पहुंचाना है, तो सबसे पहले गाँवों का विकास जरूरी है: अमित शाह
*************
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्त्व में केंद्र की मोदी सरकार ने इस वर्ष के बजट में कई सारी लोक कल्याणकारी योजनाओं का सूत्रपात किया है जिससे ग्राम विकास को बल मिला है: अमित शाह
*************
गाँव के विकास के बिना देश के विकास की कल्पना नहीं की जा सकती है: अमित शाह
*************
हम अपने युवाओं को नौकरी मांगने वाला नहीं, नौकरी देनेवाला बनाना चाहते हैं: अमित शाह
*************

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने आज, गुरूवार को हरिद्वार, उत्तराखंड में भारत रत्न बाबा साहब भीवराव अंबेडकर की 125वीं जन्मजयन्ती के अवसर पर आयोजित समरसता सम्मलेन को सम्बोधित किया और लोगों से बाबा साहब के जीवन से प्रेरणा लेकर भारत के नवनिर्माण का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी एकमात्र ऐसी पार्टी है जो दृढ़ निश्चय के साथ बाबा साहब के सपनों को साकार करने के लिए काम कर रही है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि बाबा साहब ने एक ऐसे संविधान का निर्माण किया जिसमें सभी जाति, समुदाय, वर्ग, भाषा, प्रांत इत्यादि के लिए समान अधिकार को सुनिश्चित किया जा सके ताकि देश एकता और अखंडता के साथ विकास पथ पर आगे बढ़ते हुए विश्व का नेतृत्त्व कर सके। उन्होंने कहा कि हमारा संविधान विश्व का सर्वश्रेष्ठ संविधान है। श्री शाह ने कहा कि बाबा साहब ने देश के दलित, शोषित और उत्पीड़ित वर्ग के कल्याण एवं उनके जीवन-उत्थान के लिए आजीवन संघर्ष किया, उनमें जागृति की अलख जगाई और वे समाज में भी समरसता का भाव लाने में काफी हद तक सफल रहे। श्री शाह ने कहा कि उनकी लड़ाई सामाजिक समरसता और बराबरी के लिए थी। उन्होंने कहा कि अपमान झेलने के बाद भी संविधान बनाते वक्त बाबा साहब ने किसी के प्रति बदले का भाव नहीं रखा, यह उनकी महानता को दर्शाता है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि आजकल बहुत सारी पार्टियां केवल अपने निहित स्वार्थों की पूर्ति और राजनीतिक लाभ के लिए बाबा साहब भीवराव अंबेडकर के नाम की राजनीति कर रही हैं। उन्होंने कहा कि ठीक इसके विपरीत, भारतीय जनता पार्टी अपने स्थापना समय से ही बाबा साहब के सपनों को साकार करने की दिशा में गंभीर प्रयास करती आ रही हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा का मूल उद्देश्य ही 'अंत्योदय' है जो बाबा साहब के सिद्धांतों के ही अनुरूप है और हम विकास एवं सामाजिक न्याय को देश के हर गाँव, हर गरीब, दलित, पिछड़े, शोषित और वंचितों तक पहुंचाने के लिए कृतसंकल्पित हैं।

भारतीय जनता पार्टी की केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा बाबा साहब भीमराव अंबेडकर से जुड़े स्थानों के पुनरुद्धार का जिक्र करते हुए कहा कि यह भाजपा है, जिसने बाबा साहब की जन्मभूमि, शिक्षा भूमि, बिरसा भूमि, परिनिर्वाण भूमि और समाधि भूमि को राष्ट्रीय स्मारकों के रूप में स्थापित करने का काम किया है। कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए श्री शाह ने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा उनके विचारों का दमन करने की कोशिश की, संविधान सभा से भी उन्हें बाहर रखने की कोशिश की और उनसे जुड़े स्थानों को भी समाज की मुख्य धारा से तोड़ने की कोशिश की। उन्होंने कहा कि बाबा साहब की स्मृति में डाक टिकट जारी करने का काम भी भाजपा की मोदी सरकार ने किया। श्री शाह ने कहा कि मैं इसके लिए कांग्रेस को साधुवाद देता हूँ कि उन्होंने न तो बाबा साहब से जुड़े स्थानों के संरक्षण का काम किया, न ही उनके विचारों के अनुरूप सरकार चलाई और न ही देश के दलितों, आदिवासियों, शोषितों और पिछड़ों के कल्याण के लिए ही कुछ किया। उन्होंने कहा कि ये हमारे लिए खुशी की बात है कि हमें इन कार्यों को पूरा करने का अवसर मिल रहा है।

श्री शाह ने कहा कि भाजपा मानती है कि यदि हमें भारत उदय करना है, देश के जन-जन तक सभी मूलभूत सुविधाओं को पहुंचाना है, राष्ट्र को विश्वगुरु बनाने का सपना देखना है तो सबसे पहले गाँवों का विकास जरूरी है और इसलिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्त्व में केंद्र की मोदी सरकार ने इस वर्ष के बजट में कई सारी लोक कल्याणकारी योजनाओं का सूत्रपात किया है जिससे ग्राम विकास को बल मिला है। उन्होंने कहा कि गाँव के विकास के बिना देश के विकास की कल्पना नहीं की जा सकती है। उन्होंने कहा कि हमारी प्राथमिकता हर गाँव और हर कस्बे का विकास है। उन्होंने कहा कि हमने प्रत्येक गाँव के विकास के लिए लगभग 80 लाख और प्रत्येक कस्बे के विकास के लिए लगभग 21 करोड़ से एक अलग कोष का निर्माण किया है। उन्होंने कहा कि ये हमारे लिए बहुत दुख की बात है कि आजादी के 67 सालों बाद भी देश के 18,000 गाँव ऐसे थे, जहां बिजली नहीं पहुंची थी। श्री शाह ने कहा कि मोदी सरकार ने मात्र 1000 दिनों में देश में बिजली से वंचित हर गाँव तक बिजली पहुंचाने का संकल्प लिया है, एक वर्ष के अंदर ही लगभग एक तिहाई से अधिक गाँवों में बिजली पहुंचाने का काम पूरा कर लिया गया है। श्री शाह ने कहा कि इसी तरह देश से बेरोजगारी की समस्या को ख़त्म करने के लिए केंद्र की भाजपा सरकार ने मुद्रा बैंक योजना, स्किल्ड इंडिया, स्टार्ट अप इंडिया, स्टैंड अप इंडिया जैसे अनेकों कार्यक्रमों की शुरुआत की है क्योंकि हमारा मानना है कि बेरोजगार को हम जबतक रोजगार नहीं दे देते, हम विकास के रास्ते पर नहीं चल सकते। उन्होंने कहा कि हम अपने युवाओं को नौकरी मांगने वाला नहीं, नौकरी देनेवाला बनाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि मुद्रा बैंक योजना के तहत देशभर के करोड़ों युवाओं को बिना किसी गारंटी के नगण्य दरों पर आसान ऋण उपलब्ध कराया है। उन्होंने कहा कि हमने बैंकों से कहा कि प्रत्येक ब्रांच से कम-से-कम 10 दलित और आदिवासी युवाओं को स्वरोजगार के लिए ऋण उपलब्ध कराया जाए। श्री शाह ने कहा कि इसी तरह, देश के किसानों के लिए मोदी सरकार ने प्रधानमंत्री फसल बीमा, प्रधानमंत्री सिंचाई योजना, इ-कृषि मंडी और स्वाइल हेल्थ कार्ड जैसे अभिनव योजनाओं का सूत्रपात किया ताकि किसान कठिन से कठिन परिस्थितियों में भी खुद को अकेला न महसूस करे।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने लोगों को बाबा साहब की जन्म जयंती की बधाई देते हुए कहा, "बाबा साहब के 125वीं जन्म जयंती के पावन अवसर पर केंद्र सरकार और पार्टी ने मिलकर देश में सामाजिक न्याय और सामाजिक समरसता के लिए 'ग्राम उदय से भारत उदय' आंदोलन की शुरुआत की है, 14 अप्रैल से 24 अप्रैल तक यह कार्यक्रम चलाया जाएगा। मैं कार्यकर्ताओं से आग्रह करता हूँ कि आप हर गाँव, हर गली और हर घर तक मोदी सरकार द्वारा गाँव, गरीब, किसान, दलित, शोषित और आदिवासियों के लिए चलाई जा रही योजनाओं को पहुंचाएं।" उन्होंने कहा कि हमें बाबा साहब भीमराव अंबेडकर के सिद्धांतों पर चलते हुए उनके सपने को साकार करना है और और मुझे विश्वास है कि हम गाँव, गरीब, किसान, दलित, शोषित और पिछड़े वर्ग के कल्याण और उनके जीवन-स्तर में व्यापक बदलाव लाने में सफल होंगें।


Download PDF

Photographs