Salient Points of Speech by BJP national President Shri Amit Shah addressed organisational meeting in BJP state office, Raipur Chhattisgarh.

Thursday, 08 June 2017


भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह द्वारा छत्तीसगढ़ प्रदेश भाजपा कार्यालय में आयोजित संगठनात्मक बैठक में दिए गए उद्बोधन के मुख्य बिंदु


भारतीय जनता पार्टी का गठन सत्ता प्राप्ति के लिए नहीं बल्कि एक संस्कारी, सशक्त एवं समृद्ध भारत के निर्माण के लिए हुआ है और इस लक्ष्य की प्राप्ति के लिए परिश्रम ही एक मात्र रास्ता है: अमित शाह
*********
यह हमारा दायित्व बनता है कि हम श्रेष्ठ भारत, समृद्ध भारत एवं संस्कारित भारत का निर्माण करें: अमित शाह
*********
कार्यकर्ता आगामी छत्तीसगढ़ विधानसाभा चुनाव में 65 सीटों पर जीत का लक्ष्य रखकर कार्य करें: अमित शाह
*********
भारतीय जनता पार्टी आज वैभव के जिस शिखर पर है, यह हमारे पुरखों के अथक और निःस्वार्थ परिश्रम का प्रतिफल है: अमित शाह
*********

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह देश के सभी राज्यों में कुल 110 दिनों के अपने विस्तृत प्रवास कार्यक्रम के तहत तीन दिवसीय दौरे पर आज छत्तीसगढ़ सुबह छत्तीसगढ़ पहुंचे। माननीय राष्ट्रीय अध्यक्ष जी का मुख्यमंत्री डॉ श्री रमन सिंह, राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री श्री सौदान सिंह, प्रदेश प्रभारी श्री अनिल जैन, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष श्री धरमलाल कौशिक, राष्ट्रीय महामंत्री सुश्री सरोज पाण्डेय, अनुसूचित जनजाति राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री रामविचार नेताम, मंत्रीमंडल के सभी सदस्यगण, प्रदेश पदाधिकारी एवं हजारों की संख्या में कार्यकर्ताओं ने भव्य स्वागत किया। विदित हो कि देश भर में चार लाख से अधिक कार्यकर्ता पंडित दीनदयाल उपाध्याय जन्मशती कार्य विस्तारक योजना के तहत 15 दिन, 6 महीना और एक साल के लिए देश भर में पूर्णकालिक के रूप में बूथ-स्तर पर पार्टी की मजबूती के लिए काम कर रहे हैं।

छत्तीसगढ़ प्रवास के पहले दिन श्री शाह ने कई संगठनात्मक बैठकें कीं और पार्टी की गतिविधियों की समीक्षा की। सुबह 11 बजे उन्होंने राज्य के भाजपा सांसदों, विधायकों, प्रदेश कार्यालय पदाधिकारियों, मोर्चा अध्यक्षों, जिलाध्यक्षों एवं मंडल अध्यक्षों के साथ प्रदेश भाजपा कार्यालय में एक बैठक की एवं विभिन्न विषयों पर उनके साथ विचार-विमर्श किया। उन्होंने पार्टी पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं से आगामी छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में सभी 90 सीटों पर ध्यान केन्द्रित कर 65 सीटों पर जीत सुनिश्चित करने हेतु 25 अक्टूबर 2017 से 15 अगस्त 2018 तक रोडमैप बनाने के लिए प्रतिदिन का लक्ष्य बनाने का आह्वान किया। बैठक में उपस्थित सभी सदस्यों ने इस संकल्प को पूर्ण करने का संकल्प व्यक्त किया। भाजपा अध्यक्ष ने प्रदेश संगठन प्रभारी को विस्तृत प्रवास करने एवं जिला पदाधिकारियों से अपने प्रवास के दौरान रात्रि निवास कर के बूथ की संपूर्ण गतिविधियों की जानकारी लेकर उसे गति प्रदान करने हेतु निर्देश दिया।

भाजपा अध्यक्ष ने छत्तीसगढ़ के साधु-संतों के साथ दोपहर का भोजन किया एवं उनका आशीर्वाद लिया। संगठनात्मक बैठक के द्वितीय सत्र में श्री शाह ने प्रदेश पदाधिकारियों, जिलाध्यक्षों एवं जिला प्रभारियों की संयुक्त बैठक की। श्री शाह ने जिलाध्यक्षों एवं प्रभारियों से सीधे संवाद करते हुए उन्हें पिछले विधानसभा चुनाव में हारे हुए मतदान केन्द्रों पर ध्यान केन्द्रित कर वहां नये सदस्य बनाने एवं उन बूथों का पृथक कार्यकर्ता सम्मेलन आयोजित कर जनाधार बढ़ाने का निर्देश दिया।

भाजपा अध्यक्ष ने अपराह्न तीन बजे प्रदेश भाजपा कार्यालय में आयोजित सभी मोर्चा एवं प्रकोष्ठों की संयुक्त बैठक में कहा कि राजनीतिक कार्यों के साथ आप सभी को सामाजिक कार्यों में भी बढ़ चढ़कर हिस्सा लेना चाहिए ताकि संगठनात्मक मजबूती के साथ-साथ हम संस्कारी एवं सशक्त भारत का निर्माण कर सकें। उन्होंने कहा कि 10 सदस्यों के साथ शुरू हुई भारतीय जनता पार्टी आज 11 करोड़ सदस्यों के साथ विश्व की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी है, अतः हमारा यह दायित्व बनता है कि हम अपनी संस्कृति बनाए रखते हुए नवीन कार्य पद्धति का निर्माण करें जिसमें सभी सदस्य आसानी से समावित हो जाएँ।

शाम 4 बजे 19 विभागों व 10 प्रकल्पों की बैठक लेते हुए श्री शाह ने पार्टी पदाधिकारियों से कार्यालय का आधुनिकीकरण और हर कार्यालय में पुस्तकालय निर्माण की जरूरत पर बल दिया। उन्हें पदाधिकारियों से इस कार्य को जल्द-से-जल्द पूरा करने का आह्वान करते हुए कहा कि इसकी आवश्यकता वर्तमान समय में सबसे अधिक है ताकि कार्यकर्ताओं की वैचारिक पृष्ठभूमि और मजबूत हो सके। उन्होंने इस बैठक में मीडिया संभाग, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, स्वच्छता प्रकल्प, नमामि गंगे आदि प्रकल्पों के कार्यों पर भी चर्चा की।

पार्टी पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी आज वैभव के जिस शिखर पर है, यह हमारे पुरखों के अथक और निःस्वार्थ परिश्रम का प्रतिफल है। उन्होंने कहा कि पार्टी के संस्थापक हमारे महान मनीषियों ने यह स्वप्न देखा था कि सुदूर वनांचल क्षेत्र में निवासरत हर देशवासी तक शासन की सुविधा का लाभ पहुंच सके, गरीब, शोषित, वंचित, पीड़ित, दलित, पिछड़े, युवावर्ग एवं महिलाओं के जीवन स्तर को और बेहतर बनाया जा सके, आज हम उस स्वप्न को साकार करने की दिशा में तेज गति से काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सफलता आलस्य भी लाती है लेकिन भारतीय जनता पार्टी का गठन सत्ता प्राप्ति के लिए नहीं बल्कि एक संस्कारी, सशक्त एवं समृद्ध भारत के निर्माण के लिए हुआ है और इस लक्ष्य की प्राप्ति के लिए परिश्रम ही एक मात्र रास्ता है। उन्होंने कहा कि इस पवित्र लक्ष्य की प्राप्ति शब्दों की चतुराई से नहीं अपितु पसीना बहा कर परिश्रम और पुरूषार्थ से ही प्राप्त किया जा सकता है। उन्होंने कार्यकर्ताओं से इस लक्ष्य की प्राप्ति के लिए अपने-अपने प्रकल्पों व विभागों के माध्यम से जुट जाने का आह्वान किया।


Download PDF