Salient Points of Speech by BJP National President, Shri Amit Shah Addressing a Public Programme on Maiden Anniversary of Bharath Dharma Jana Sena Angamaly Adlux Convention Centre, Karukutty (Kerala)

Monday, 05 December 2016


भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष, श्री अमित शाह द्वारा भारत धर्म जन सेना पार्टी के एक वर्ष पूरा होने के अवसर पर केरल के कारूकुट्टी में दिए गए उद्बोधन के मुख्य बिंदु


गरीब से गरीब आदमी तक विकास पहुंचाना नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार का प्रमुख लक्ष्य, ढाई साल के बाद भी बेदाग है सरकार : श्री अमित शाह
*********
तुष्टिकरण, वोटबैंक और ऊंच नीच की नहीं विकास की राजनीति करती है भारतीय जनता पार्टी : श्री अमित शाह
*********
संगठन, शिक्षा और उद्यम, नारायण गुरू से सीखे मूल मंत्रों पर चल रही केंद्र में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व की सरकार : श्री अमित शाह
*********
केरल में एनडीए की सरकार आई तो भारत धर्म जन सेना जैसे सहयोगियों के साथ मिलकर करेंगे चौगुना विकास : श्री अमित शाह
*********
एलडीएफ और यूडीएफ के 30 साल के कुशासन से केरल के सांस्कृतिक मूल्य खतरे में : श्री अमित शाह
*********
कालेधन पर शिकंजा कसने से बंद होगी कालाबाजारी, गरीबों तक पहुंचेगा विकास का लाभ : श्री अमित शाह
*********

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष श्री अमित शाह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी समाज को बांटने वाली ऊंच नीच की राजनीति में विश्वास नहीं करती। पार्टी दक्षिण भारत में सामाजिक सुधार आंदोलनों के प्रणेता रहे श्री नारायण गुरू जैसे व्यक्तित्वों को अपना आदर्श मानती है। केरल की एलडीएफ सरकार को हिंसा की पक्षधर बताते हुए उन्होंने कहा कि एनडीए के कार्यकर्ताओं पर जितने हमले होंगे पार्टी उतनी ही मजबूत होगी। श्री शाह भारत धर्म जन सेना पार्टी (बीडीजेएस) के एक साल पूरा होने पर सोमवार को कार्यक्रम मंं हिस्सा लेने केरल के कारुकुट्टी पहुंचे। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने उम्मीद जताई कि श्री नारायण गुरू के आदर्शों पर चलकर एनडीए केरल में बहुमत का आंकड़ा हासिल करेगी।

श्री शाह ने कहा कि बीडीजेएस की स्थापना के पूर्व से ही मैं बीडीजेएस से जुड़ाव रखता हूं। केरल में जिस तरह की राजनीतिक स्थिति 30 साल से बनी हुई है। उसकी वजह एलडीएफ और यूडीएफ का कुशासन रहा है। केरल के सांस्कृतिक मूल्य, समाज सुधार का इतिहास और परंपरा खतरे में थे ऐसे समय में श्री नारायण गुरू के सिद्धांतों पर चलने वाली पार्टी सामने आई और उसका भारतीय जनता पार्टी से गठबंधन हुआ। इससे केरल की मूल संस्कृति के आधार पर राजनीति की राह संभव हुई है। एक साल में ही बीडीजेएस ने ग्रास रूट लेवल पर पकड़ बनाने में सफलता हासिल की है। गत विधानसभा चुनाव में एनडीए की भारतीय जनता पार्टी और बीडीजेएस ने जिस तरह का प्रदर्शन किया है उससे तय है कि आने वाले लोकसभा और विधानसभा चुनाव में एनडीए केरल में बहुमत का रास्ता निश्चित तय करेगा।

राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने कहा कि केरल की जनता और राजनीतिक दलों को केरल के इतिहास को याद करना पड़ेगा। 19 वीं सदी के अंत में जिस तरह की सामाजिक विषमता जैसे छूआछूत और ऊंच नीच में केरल जकड़ा हुआ था। उस समय श्री नारायण गुरू के सामाजिक आंदोलन ने अहम भूमिका निभाई और तभी से आधुनिक केरल का निर्माण हुआ। देश में जितने सामाजिक आंदोलन हुए हैं उनमें श्री नारायण गुरू का चलाया गया आंदोलन सबसे सफल रहा है। यह सब स्वीकार करते हैं। आजादी के आंदोलन के वक्त भी शिवागिरी मठ आजादी के प्रमुख प्रेरणा केंद्रों में से एक था। राष्ट्रगान के रचयिता रवींद्र नाथ टैगोर रहें हों या गांधी जी‍ उन्होंने श्री नारायण गुरू से प्रेरणा लेकर समृद्ध समतायुक्त समाज बनाने का काम किया।

श्री शाह ने कहा कि गांधी जी मानते थे कि दलितों के उत्थान के लिए काम करने की प्रेरणा उन्हें श्री नारायण गुरू से मिली। अद्वैत का प्रचार करने के साथ साथ श्री नारायण गुरू ने धर्म की सरल व्याख्या की। जब 1920 में त्रिशूत में मंदिर की स्थापना की गई तो उन्होंने दीपक जलाया। 1922 में जब मंदिर की स्थापना हुई तब प्रतिमा की जगह सत्य, धर्म, प्रेम और दया यह चार शब्द लिखे गए। 1924 में जब मंदिर बनाया तो एक शीशा लगवाया जिसमें यह संदेश था कि ईश्वर तुम्हारे अंदर ही है। एक नए तरह का तत्व ज्ञान श्री नारायण गुरू ने दिया और अद्वैत के सिद्धांत को केरल के कोने कोने तक पहुंचाया।

श्री शाह ने कहा कि केंद्र में एनडीए की सरकार है और एनडीए की सरकार ने देश के विकास के लिए ढाई साल में बहुत कुछ किया है। सरकार की कई उपलब्धियां हैं। लेकिन मैं एक बात कहना चाहता हूं कि नरेंद्र मोदी सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि है कि ढाई साल के बाद भी सरकार पर एक पैसे के भ्रष्टाचार का भी आरोप नहीं लगा है। संगठन, शिक्षा और औद्योगिक विकास इन तीन मंत्रों के आधार पर समाज की पुनर्रचना के बारे में श्री नारायण गुरू ने सोचा था। आज इसी रास्ते पर चलकर नरेन्द्र मोदी सरकार ने सर्वसमावेशी विकास का रास्ता अपनाया है। विकास ऐसा हो जो हर व्यक्ति तक पहुंचे और विकास ऐसा हो जिसमें हर व्यक्ति का स्थान हो। तुष्टिकरण और वोटबैंक की राजनीति के बगैर विकास सबके लिए समान हो इस तरह की एक नई शुरुआत श्री नरेन्द्र मोदी ने की है।

केंद्र में सरकार बनने के बाद नरेंद्र मोदी सरकार ने हर 15 दिन में एक योजना बनाने का काम किया है। जनधन योजना, मुद्रा बैंक योजना, स्किल इंडिया, स्टैंडअप इंडिया, स्टार्ट अप इंडिया योजना, किसानों के लिए फसल बीमा योजना ऐसी 92 से ज्यादा योजनाएं हर वर्ग के लिए लाई गई हैं लेकिन यह योजनाएं केरल में नीचे तक नहीं पहुंच रहीं। यहां बैठी पहले की कांग्रेस और वर्तमान एलडीएफ की कम्युनिस्ट सरकार ने इन योजनाओं का लाभ नीचे तक नहीं पहुंचने दिया।

एलडीएफ पर निशाना साधते हुए श्री शाह ने कहा कि केरल की सरकार विकास में नहीं हिंसा में विश्वास रखती है। जबसे केरल की यह सरकार बनी है भारतीय जनता पार्टी और एनडीए के कार्यकर्ताओं पर हमले भी हो रहे हैं और उनकी हत्या भी हो रही है। अगर विजयन जी को लगता है कि हिंसा करने से एनडीए का विकास केरल के अंदर रोक सकेंगे तो उन्हें मालूम नहीं है कि जितनी ज्यादा हिंसा होगी, एनडीए उतना ही ज्यादा फैलेगा, उतना ही ज्यादा मजबूत होगा और उतना ही ज्यादा संघर्ष करेगा।

राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री शाह ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार ने एक ही झटके में कालेधन को समाप्त करने वाला बड़ा फैसला लिया है। नोटबंदी के कारण कालाबाजारी समाप्त होगी इससे गरीब से गरीब आदमी तक विकास का लाभ पहुंचाने में बड़ी मदद मिलेगी। जब कश्मीर में उड़ी पर हमला किया गया तो पूरा देश स्तब्ध रह गया लेकिन इस बार देश में कांग्रेस की सरकार नहीं थी बल्कि एनडीए की नरेंद्र मोदी सरकार थी। हमारे जवानों ने पाकिस्तान में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक की और देश की सीमाओं को सुरक्षित किया।

श्री अमित शाह ने कहा कि केरल देश का सबसे शिक्षित राज्य है यहां विकास की अपार संभावना है। केंद्र में नरेंद्र मोदी की सरकार है राज्य में भी एनडीए की सरकार बनती है तो विकास चार गुना बढ़ जाएगा। समय की मांग है कि एनडीए के सभी घटक मिलकर काम करें और एलडीएफ व यूडीएफ का मजबूती से सामना करें। वेलापल्ली जी के नेतृत्व में बीडीजेएस ने एक साल में संघर्ष कर एक खास मकाम हासिल किया है। अब तुषार भाई के नेतृत्व में बीडीजेएस बहुत मजबूत हो और भारतीय जनता पार्टी के साथ मिलकर एक मजबूत राजनीतिक शक्ति बनकर उभरे। मैं इसकी शुभकामना करता हूं। दोनों मिलकर केरल में सरकार बनाएं। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार केरल के हर क्षेत्र में विकास को लेकर कटिबद्ध है।

Download PDF