Salient Points of Speech by Bjp National President, Shri Amit Shah Addressing "Jan Jagran Maha Samavesh" At Baramunda Padia, Bhubaneswar (Orissa)

Friday, 25 November 2016


भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह द्वारा भुवनेश्वर, उड़ीसा में आयोजित जन जागरण महा समावेश में दिए गए उद्बोधन के मुख्य बिंदु


केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार हर 15 दिन में गरीब, आदिवासी, दलित, युवा, महिला और किसानों के लिए एक योजना लेकर आई है लेकिन उड़ीसा की नवीन पटनायक सरकार इन योजनाओं को राज्य के आदिवासी और गरीबों तक पहुँचने ही नहीं देती: अमित शाह
*********
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी उड़ीसा के विकास के लिए बहुत कुछ करना चाहते हैं लेकिन इसके लिए राज्य में एक ऐसी संवेदनशील सरकार चाहिए जो मोदी जी के विजन को, उनकी गरीब-कल्याण की नीतियों को राज्य के लोगों तक पहुंचा सके: अमित शाह
*********
मैं नवीन पटनायक जी से पूछता हूँ कि नवीन जी, आप ने 17 सालों में राज्य के विकास के लिए क्या किया, पहले इसका जवाब प्रदेश की जनता को दीजिये: अमित शाह
*********
जो सरकार 17 सालों में उड़ीसा के लोगों को बिजली-पानी तक नहीं पहुंचा पाई, उस सरकार को सत्ता में बने रहने का कोई हक़ नहीं है: अमित शाह
*********
जब दाना मांझी को अपनी पत्नी के शव को 10 किमी तक कंधे पर ले जाने के लिए मजबूर होना पड़ता है तो ऐसी राज्य सरकार को सत्ता में बने रहने का कोई हक़ नहीं है: अमित शाह
*********
जब तक राज्य में भाजपा की सरकार नहीं आती, तब तक उड़ीसा से न तो भ्रष्टाचार मिटेगा और न ही राज्य में विकास हो पायेगा: अमित शाह
*********
दर्द उन्हें होना चाहिए जिनके काले-धन और भ्रष्टाचार से अर्जित किये हुए धन रद्दी में तब्दील हो गए हैं, इससे मनमोहन सिंह क्यों परेशान हो रहे हैं: अमित शाह
*********
काले-धन और भ्रष्टाचार पर कड़े-प्रहार से कांग्रेस, सपा, बसपा, ममता, आप पार्टी सब के चेहरे का नूर उड़ गया है, उनमें हाय-तौबा मची हुई है: अमित शाह
*********
7 तारीख तक समूचा विपक्ष मोदी जी से सवाल करता था कि मोदी जी, आपने काले-धन के लिए क्या किया, 8 तारीख की आधी रात के बाद ये कह रहे हैं कि कालेधन के लिए ऐसा क्यों किया, ‘क्या' से ‘क्यों’ हो गया, मैं तो यह पूछना चाहता हूँ कि आखिर आपका क्या गया, ज़रा देश की जनता को तो बताइये: अमित शाह
*********
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने एक ही प्रहार से देश में से काले-धन की व्यवस्था को खत्म कर गरीबों की भलाई का काम किया है और देश की जनता प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के साथ है: अमित शाह
*********
केंद्र में मोदी सरकार आने के बाद से जब पाकिस्तान की ओर से गोलीबारी होती है तो हमारे जवानों को दिल्ली से आर्डर लेने की जरूरत नहीं लेनी पड़ती, गोली का जवाब गोले से दिया जाता है: अमित शाह
*********
सौभाग्य से देश में सोनिया-मनमोहन की सरकार नहीं है, भारतीय जनता पार्टी की नरेन्द्र मोदी सरकार है, हमारे वीर जवानों ने पाकिस्तान में घुसकर उड़ी में शहीद हुए जांबाज सिपाहियों की शहादत का बदला लिया: अमित शाह
*********
मोदी जी की दृढ़ राजनीतिक इच्छाशक्ति और हमारे जवानों के शौर्य ने देश का मान दुनिया में ऊंचा करने का काम किया है: अमित शाह
*********
हम ऐसा उड़ीसा बनाना चाहते हैं जहां युवाओं को रोजगार के लिए राज्य से पलायन को विवश न होना पड़े, उन्हें यहीं अपने परिवार के साथ रहते हुए रोजगार के अवसर प्राप्त हों, यदि 17 सालों में उड़ीसा सरकार ने सही तरीके से काम किये होते तो राज्य के युवाओं को नौकरी के लिए दर-दर की ठोकरें नहीं खानी पड़ती: अमित शाह
*********
आज भी ट्राइबल यदि सबसे ज्यादा कहीं पिछड़ा हुआ है तो वह उड़ीसा में है: अमित शाह
*********
कृषि के विकास के लिए केंद्र से जितना भी फंड उड़ीसा के लिए आता है, मालूम ही नहीं पड़ता कि कहाँ चला जाता है: अमित शाह
*********
2013 में केंद्र की यूपीए सरकार ने उड़ीसा के विकास के लिए लगभग 23,000 करोड़ रुपये आवंटित किया जबकि 2016 में भाजपा की मोदी सरकार ने उड़ीसा के लिए लगभग 63,000 करोड़ रुपया आवंटित किया है, हमने सोनिया-मनमोहन सरकार की तुलना में लगभग 40,000 करोड़ रुपया उड़ीसा को अधिक दिया है: अमित शाह
*********
आजादी के 70 साल बाद भी उड़ीसा के लगभग 3474 गाँवों में बिजली नहीं पहुँच पाई थी, भारतीय जनता पार्टी की मोदी सरकार ने ढ़ाई साल के अंदर ही इनमें से लगभग आधे गाँवों में बिजली पहुंचाने का काम पूरा कर लिया है: अमित शाह
*********
हमने तो ढ़ाई वर्षों में ही उड़ीसा के विकास के लिए इतने काम किये हैं, अब उड़ीसा के मुख्यमंत्री जी को प्रेस कांफ्रेंस करके बताना चाहिए कि उन्होंने 17 सालों में उड़ीसा के विकास के लिए क्या किया: अमित शाह
*********
ढ़ाई वर्षों में केंद्र की श्री नरेंद्र मोदी सरकार पर भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं लग पाया है, हमने देश को एक पारदर्शी और भ्रष्टाचार विहीन शासन देने का काम किया है: अमित शाह
*********
सोनिया-मनमोहन की यूपीए सरकार के समय पूरी दुनिया मानने लगी थी कि भारत की विकास-गाथा समाप्त हो गई है, लेकिन आज पूरी दुनिया फिर से यह मानने लगी है कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्त्व में 21वीं सदी हिन्दुस्तान की सदी है: अमित शाह
*********

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने आज भुवनेश्वर, उड़ीसा में आयोजित जन जागरण महा समावेश को संबोधित किया और उड़ीसा की बदहाली पर राज्य की नवीन पटनायक सरकार पर करारा प्रहार किया। उन्होंने प्रदेश भर में फैले भाजपा कार्यकर्ताओं से अपील करते हुए कहा कि आप उड़ीसा के विकास के लिए ‘अगली बार, भाजपा सरकार' का संकल्प लेकर पंचायत चुनाव में जाएँ और मजबूत भाजपा की नींव रखें। भगवान जगन्नाथ की पावन भूमि को प्रणाम करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि उड़ीसा की धरती शुरू से ही संघर्ष और स्वतंत्रता का प्रतीक रही है, यही वह भूमि है जिसने चंड अशोक को संघप्रिय अशोक में बदलने पर मजबूर कर दिया था।

उड़ीसा के मुख्यमंत्री पर पलटवार करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि नवीन पटनायक जी हमेशा पूछते रहते हैं कि केंद्र की भाजपा सरकार ने उड़ीसा के विकास के लिए क्या किया, मैं नवीन जी से पूछता हूँ कि नवीन जी, आप ने 17 सालों में राज्य के विकास के लिए क्या किया, पहले इसका जवाब प्रदेश की जनता को दीजिये। उन्होंने कहा कि 17 वर्ष का कालखंड किसी राष्ट्र अथवा राज्य के लिए बहुत बड़ा कालखंड होता है लेकिन इन 17 सालों में जहां भाजपा शासित राज्य विकास की नई ईबारत लिख रहे हैं, वहीं उड़ीसा विकास के रास्ते पर आगे बढ़ नहीं पाया है। उन्होंने कहा कि जो सरकार 17 सालों में राज्य के लोगों को पीने का पानी तक मुहैय्या नहीं करा पाई, वह और क्या कर सकती है? उन्होंने कहा कि उड़ीसा में आज भी इतनी ताकत है कि वह कोयले से पूरे हिन्दुस्तान को रौशन कर सकती है लेकिन राज्य के 41% गाँवों में आज भी बिजली नहीं पहुँच पाई है। उन्होंने कहा कि जो सरकार 17 सालों में लोगों को बिजली-पानी तक नहीं पहुंचा पाई, उस सरकार को सत्ता में बने रहने का कोई हक़ नहीं है। राज्य में बेरोजगारी की समस्या पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि उड़ीसा में रोजगार की दिशा में कोई काम नहीं हुआ, हम ऐसा उड़ीसा बनाना चाहते हैं जहां युवाओं को रोजगार के लिए राज्य से पलायन को विवश न होना पड़े, उन्हें यहीं अपने परिवार के साथ रहते हुए रोजगार के अवसर प्राप्त हों, यदि 17 सालों में उड़ीसा सरकार ने सही तरीके से काम किये होते तो राज्य के युवाओं को नौकरी के लिए दर-दर की ठोकरें नहीं खानी पड़ती। उन्होंने कहा कि उड़ीसा की नवीन पटनायक सरकार ने राज्य के ट्राइबल्स की भी घोर उपेक्षा की है, आज भी ट्राइबल यदि सबसे ज्यादा कहीं पिछड़ा हुआ है तो वह उड़ीसा में है। राज्य में कृषि विकास की धीमी दर पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि कृषि के विकास के लिए केंद्र से जितना भी फंड उड़ीसा के लिए आता है, मालूम ही नहीं पड़ता कि कहाँ चला जाता है। उन्होंने कहा कि उड़ीसा सरकार किसानों के खेत की सिंचाई के लिए पानी पहुंचाने में विफल रही है। उन्होंने कहा कि यही हाल राज्य की स्वास्थ्य और शिक्षा व्यवस्था का भी है। कालाहांडी की शर्मनाक घटना का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि जब दाना मांझी को अपनी पत्नी के शव को 10 किमी तक कंधे पर ले जाने के लिए मजबूर होना पड़ता है तो ऐसी राज्य सरकार को सत्ता में बने रहने का कोई हक़ नहीं है। उड़ीसा की जनता का आह्वान करते हुए उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी का कार्यकर्ता संघर्ष करे और उखाड़ कर फेंक दे इस प्रकार की संवेदनहीन सरकार को और भाजपा की गरीब-कल्याण एवं विकासोन्मुखी सरकार बनाने का मार्ग प्रशस्त करे। उन्होंने कहा कि जब तक राज्य में भाजपा की सरकार नहीं आती, तब तक उड़ीसा से न तो भ्रष्टाचार मिटेगा और न ही राज्य में विकास हो पायेगा।

श्री शाह ने ढ़ाई सालों में केंद्र सरकार द्वारा उड़ीसा के विकास के लिए किये गए कार्यों पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए कहा कि केंद्र की भारतीय जनता पार्टी की मोदी सरकार ने उड़ीसा के लिए ढ़ाई साल में जो किया है वह आजादी के बाद इन 70 सालों में भी किसी और सरकार ने नहीं किया है। सोनिया-मनमोहन सरकार से तुलना करते हुए उन्होंने कहा कि 2013 में केंद्र की यूपीए सरकार ने उड़ीसा के विकास के लिए लगभग 23,000 करोड़ रुपये आवंटित किया जबकि 2016 में भाजपा की मोदी सरकार ने उड़ीसा के लिए लगभग 63,000 करोड़ रुपया आवंटित किया है, हमने सोनिया-मनमोहन सरकार की तुलना में लगभग 40,000 करोड़ रुपया अधिक दिया है, इसी तरह राज्य में रेलवे के विकास के लिए 2013 में कांग्रेस की यूपीए सरकार ने 764 करोड़ रुपया दिया, वहीं भाजपा की मोदी सरकार ने 2016 के रेल बजट में उड़ीसा के लिए लगभग 4682 करोड़ रुपये आवंटित किये। उन्होंने कहा कि उड़ीसा में राजमार्गों के विकास के लिए साल 2016 में केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा लगभग 45,000 करोड़ रुपये और ग्रामीण सड़क के निर्माण के लिए लगभग 1200 करोड़ रुपये आवंटित किये गए। उन्होंने कहा कि राज्य में जल मार्गों के विकास की योजना भी केंद्र की भाजपा सरकार ने बनाई है। उन्होंने कहा कि आजादी के 70 साल बाद भी उड़ीसा के लगभग 3474 गाँवों में बिजली नहीं पहुँच पाई थी, भारतीय जनता पार्टी की मोदी सरकार ने ढ़ाई साल के अंदर ही इनमें से लगभग आधे गाँवों में बिजली पहुंचाने का काम पूरा कर लिया है। उन्होंने कहा कि राज्य में स्वास्थ्य सेवाओं के विकास के लिए लगभग 3000 करोड़ रुपये और कृषि विकास के लिए लगभग 600 करोड़ रुपये आवंटित किये गए। उन्होंने कहा कि उड़ीसा में पेट्रोलियम सेक्टर में करीब 35,000 करोड़ रुपये का इन्वेस्टमेंट आने वाला है। उन्होंने कहा कि राज्य के लगभग 40 लाख लोगों को इन ढ़ाई वर्षों में एलपीजी कनेक्शन मिला है, मुद्रा योजना के माध्यम से लगभग दो लाख करोड़ का लोन युवाओं को दिया गया है, जन-धन योजना के माध्यम से अकेले उड़ीसा प्रदेश में लगभग 84 लाख बैंक अकाउंट खोले गए हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में आदिवासियों के विकास के लिए लगभग 11,000 करोड़ रुपये की अलग से व्यवस्था की गई है, इतना ही नहीं, भगवान जगन्नाथ पुरी के आसपास की व्यवस्थाओं के पुनर्निर्माण की कल्पना भी केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने ही की है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने उड़ीसा के विकास के लिए एक साल के अंदर ही लगभग 1,30,000 करोड़ रुपये आवंटित किये हैं। उड़ीसा की बीजू जनता दल सरकार पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि हमने तो ढ़ाई वर्षों में ही उड़ीसा के विकास के लिए इतने काम किये हैं, अब उड़ीसा के मुख्यमंत्री जी को प्रेस कांफ्रेंस करके बताना चाहिए कि उन्होंने 17 सालों में उड़ीसा के विकास के लिए क्या किया?

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि मोदी सरकार यह मानती है कि देश के पश्चिमी हिस्से के विकास की तुलना में पूर्वी हिस्से का विकास नहीं हो पाया है, देश के पूर्वी हिस्से के विकास पर खासा बल दिया गया है और उड़ीसा देश के पूर्वी हिस्से में आता है। केंद्र सरकार द्वारा देश एवं राज्य के विकास के लिए 90 से अधिक योजनाओं का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने हर 15 दिन में गरीब, आदिवासी, दलित, युवा, महिला और किसानों के लिए एक योजना लेकर आई है लेकिन उड़ीसा की नवीन पटनायक सरकार इन योजनाओं को राज्य के आदिवासी और गरीबों तक पहुँचने ही नहीं देती। उन्होंने कहा कि कल ही मोदी सरकार के ढ़ाई साल पूरे हो रहे हैं, इन ढ़ाई वर्षों में मोदी सरकार ने देश एवं उड़ीसा के विकास के लिए कई कार्य किये हैं। उन्होंने कहा कि इन ढ़ाई वर्षों में केंद्र की श्री नरेंद्र मोदी सरकार पर भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं लग पाया है, हमने देश को एक पारदर्शी और भ्रष्टाचार विहीन शासन देने का काम किया है।

श्री शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने पूरी दुनिया में देश और देशवासियों का मान-सम्मान बढ़ाने का काम किया है। उन्होंने कहा कि सोनिया-मनमोहन की यूपीए सरकार के समय पूरी दुनिया मानने लगी थी कि भारत की विकास-गाथा समाप्त हो गई है, लेकिन आज पूरी दुनिया फिर से यह मानने लगी है कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्त्व में 21वीं सदी हिन्दुस्तान की सदी है। उन्होंने कहा कि आज प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्त्व में भारत दुनिया की सबसे तेज गति से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था बन चुकी है।

पूर्व प्रधानमंत्री श्री मनमोहन सिंह के कल राज्य सभा में दिए गए संबोधन पर कटाक्ष करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि काले-धन को देश की अर्थव्यवस्था से हटाने के लिए नोटबंदी की योजना से उन्हें बहुत दर्द हो रहा है। उन्होंने कहा कि दर्द उन्हें होना चाहिए जिनके काले-धन और भ्रष्टाचार से अर्जित किये हुए धन रद्दी में तब्दील हो गए हैं, इससे मनमोहन सिंह क्यों परेशान हो रहे हैं? उन्होंने कहा कि काले-धन और भ्रष्टाचार पर कड़े-प्रहार से कांग्रेस, सपा, बसपा, ममता, आप पार्टी सब के चेहरे का नूर उड़ गया है, उनमें हाय-तौबा मची हुई है। उन्होंने कहा कि 7 तारीख तक समूचा विपक्ष मोदी जी से सवाल करता था कि मोदी जी, आपने काले-धन के लिए क्या किया, 8 तारीख की आधी रात के बाद ये कह रहे हैं कि कालेधन के लिए ऐसा क्यों किया, ‘क्या' से ‘क्यों’ हो गया, मैं तो यह पूछना चाहता हूँ कि आखिर आपका क्या गया, ज़रा देश की जनता को तो बताइये। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने एक ही प्रहार से देश में से काले-धन की व्यवस्था को खत्म कर गरीबों की भलाई का काम किया है और देश की जनता प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के साथ है।

श्री शाह ने कहा कि राहुल गांधी देश की सीमाओं की सुरक्षा की बात करते हैं, देश में जब सोनिया-मनमोहन की यूपीए सरकार थी, देश की सीमाओं पर आए दिन आलिया-मालिया-जमालिया हमला करके भाग जाते थे, कोई जवाब नहीं दिया जाता था लेकिन केंद्र में मोदी सरकार आने के बाद से जब पाकिस्तान की ओर से गोलीबारी होती है तो हमारे जवानों को दिल्ली से आर्डर लेने की जरूरत नहीं लेनी पड़ती, गोली का जवाब गोले से दिया जाता है। उड़ी में कायराना पाकिस्तानी आतंकवादी हमले का जिक्र करते हुए कहा कि सौभाग्य से देश में सोनिया-मनमोहन की सरकार नहीं है, भारतीय जनता पार्टी की नरेन्द्र मोदी सरकार है, हमारे वीर जवानों ने पाकिस्तान में घुसकर उड़ी में शहीद हुए जांबाज सिपाहियों की शहादत का बदला लिया, मोदी जी की दृढ़ राजनीतिक इच्छाशक्ति और हमारे जवानों के शौर्य ने देश का मान दुनिया में ऊंचा करने का काम किया है, ये बात कांग्रेस वाले नहीं समझ सकते।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी उड़ीसा के विकास के लिए बहुत कुछ करना चाहते हैं लेकिन इसके लिए राज्य में एक ऐसी संवेदनशील सरकार चाहिए जो मोदी जी के विजन को, उनकी गरीब-कल्याण की नीतियों को राज्य के गरीबों, आदिवासियों, गाँवों, युवाओं, महिलाओं और किसानों तक पहुंचा सके। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश भर में फैले हुए हर कार्यकर्ता का आह्वान करते हुए कहा कि आप संघर्ष कीजिये, राज्य में आने वाले पंचायत चुनाव में ही ट्रेलर दिखा दीजिये कि आगे का समय कैसा आने वाला है। उन्होंने कार्यकर्ताओं से राज्य में अगली सरकार, भाजपा सरकार का लक्ष्य लेकर काम करने की अपील की।

Download PDF