Salient Points of Speech by BJP National President Shri Amit Shah on The Occasion of Releasing Book Titled "Andhere Se Ujale Ki Aur" Authored by Hon'ble FM, Shri Arun Jaitley

Thursday, 20 October 2016


भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह द्वारा भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं केन्द्रीय वित्त मंत्री श्री अरुण जेटली की पुस्तक ‘अँधेरे से उजाले की ओर' के लोकार्पण अवसर पर दिए गए उद्बोधन के मुख्य अंश


इस पुस्तक का शीर्षक ‘अँधेरे से उजाले की ओर' ही पुस्तक का परिचायक है: अमित शाह
*******
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्त्व में जहां भारत दुनिया में सबसे तेज गति से विकास करने वाली अर्थव्यवस्था बना, वहीं दूसरी ओर गरीब से गरीब व्यक्ति का भी विकास कर उसे समाज की मुख्यधारा में लाने का काम हुआ है: अमित शाह
*******
जीएसटी और कालेधन की घोषणा मोदी सरकार की बड़ी उपलब्धियों में से एक है और यह दोनों श्री अरुण जी के ही विभाग से ही सम्बद्ध है: अमित शाह
*******
लंबे सार्वजनिक और राजनीतिक जीवन का अनुभव अरुण जेटली जी की लेखनी में सदैव झलकता है: अमित शाह
*******
भारतीय जनता पार्टी के अंदर चुनाव की रणनीति बनाना, मुद्दों को आइडेंटीफाई करना, इन मुद्दों के आधार पर पार्टी के कार्यक्रमों की रूप-रेखा तैयार करना और पोलिंग के बाद तक के कार्यक्रम का सूक्ष्म आयोजन करना - इस परम्परा की भारतीय जनता पार्टी में यदि किसी ने शुरुआत की है, तो उसमें श्री अरुण जेटली जी का नाम प्रमुख है: अमित शाह
*******
राजनीति की पिच पर विपक्ष में रहते हुए भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता और राज्य सभा में विपक्ष के नेता के रूप में अरुण जी ने विपक्ष के फुल टॉस को हमेशा बाउंड्री के बाहर सिक्स़र के लिए भेजा है: अमित शाह
*******
भारतीय लोकतंत्र में संसदीय बहस जब नीरस हो चुका था, तब श्री जेटली जी ने बहस को न केवल जनता की आवाज में परिवर्तित करने का काम किया बल्कि इन बहस की कई जन-आन्दोलनों को भी खड़ी करने में प्रमुख भूमिका रही: अमित शाह
*******
आजादी के बाद पारदर्शी और मूल्य आधारित राजनीति करने वालों नेताओं की जब बात होगी तो दलगत राजनीति से परे ऐसे नेताओं में श्री जेटली जी का नाम प्रमुखता से लिया जाएगा: अमित शाह
*******
श्री जेटली जी ने हमेशा सार्वजनिक जीवन को नई ऊँचाइयों पर ले जाने और भ्रष्टाचार व काले धन के खिलाफ प्रखर रूप से संघर्ष करने के लिए काम किया है: अमित शाह
*******
यह पुस्तक भ्रष्टाचार और घोटाले के खिलाफ देश की एवं जनता की आवाज है: अमित शाह
*******
छद्म धर्मनिरपेक्षता और आतंकवाद के खिलाफ संघर्ष की प्रेरणास्रोत है यह पुस्तक: अमित शाह
*******
श्री अरुण जेटली जी ने ढ़ाई सालों में ही ऐसा काम करके दिखाया है कि आज पूरी दुनिया यह स्वीकार करने लगी है कि भारत विश्व में सबसे तेज गति से विकास करने वाली अर्थव्यवस्थाओं में से एक है: अमित शाह
*******

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने आज भाजपा के केन्द्रीय कार्यालय में भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं केन्द्रीय वित्त मंत्री श्री अरुण जेटली द्वारा लिखे ब्लॉग आलेखों और विचारों के हिन्दी संकलन ‘अंधेरे से उजाले की ओर' का लोकार्पण किया और पुस्तक में वर्णित विषयों की विस्तार से चर्चा की। इस अवसर पर माननीय वित्त मंत्री के साथ विशिष्ट अथिति के रूप में वरिष्ठ पत्रकार और राज्य सभा के सांसद श्री स्वप्न दासगुप्ता भी मौजूद थे।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि प्रभात प्रकाशन द्वारा श्री जेटली जी के ब्लॉग और आलेखों को हिन्दी में देश की जनता तक पहुंचाने का यह प्रयास काफी सराहनीय है। उन्होंने कहा कि इस पुस्तक का शीर्षक ‘अँधेरे से उजाले की ओर' ही पुस्तक का परिचायक है। उन्होंने कहा कि इस पुस्तक के अंदर वर्णित सभी विषयों की दिशा समाज को आगे ले जाने की दिशा को रेखांकित करती है। उन्होंने कहा कि लंबे सार्वजनिक और राजनीतिक जीवन का अनुभव उनकी लेखनी में सदैव झलकता है। उन्होंने कहा कि दुनिया अरुण जी को एक सफल अधिवक्ता, एक सफल राजनेता, राज्य सभा में विपक्ष के नेता और प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्त्व में केंद्र की भाजपा सरकार के एक सफल वित्त मंत्री के रूप में जानती है। उन्होंने कहा कि विद्यार्थी काल से ही लंबे समय तक पूरे सार्वजनिक जीवन को एक ही विचारधारा के साथ जीना, संघर्ष करते हुए जीवन की शुरुआत कर 19 महीनों तक कारागार में समय व्यतीत करना, आपातकाल को भी एक स्पिरिट के साथ जीना, फिर भारतीय जनता पार्टी में आना, धीरे-धीरे कई दायित्त्वों का निर्वहन करना और श्री अटल बिहारी वाजपयी सरकार में पहले राज्य मंत्री फिर क़ानून मंत्री के रूप में दायित्त्वों का निर्वहन भी श्री जेटली जी के जीवन की विशिष्टता रही है। उन्होंने कहा कि मगर श्री जेटली जी का सबसे महत्त्वपूर्ण योगदान श्री आडवाणी जी के समय भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और प्रवक्ता के रूप में रहा है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के अंदर चुनाव की रणनीति बनाना, चुनाव के मुद्दों को आइडेंटीफाई करना, इन मुद्दों के आधार पर पार्टी के कार्यक्रमों की रूप-रेखा तैयार करना और पोलिंग के बाद तक के कार्यक्रम का सूक्ष्म आयोजन करना - इस परम्परा की भारतीय जनता पार्टी में यदि किसी ने शुरुआत की है, तो उसमें श्री अरुण जेटली जी का नाम प्रमुख है।

श्री शाह ने कहा कि राजनीति की पिच पर विपक्ष में रहते हुए भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता और राज्य सभा में विपक्ष के नेता के रूप में अरुण जी ने विपक्ष के फुल टॉस को हमेशा बाउंड्री के बाहर सिक्स़र के लिए भेजा है। उन्होंने कहा कि भारतीय लोकतंत्र में संसदीय बहस जब नीरस हो चुका था, तब श्री जेटली जी ने बहस को न केवल जनता की आवाज में परिवर्तित करने का काम किया बल्कि इन बहस की कई जन-आन्दोलनों को भी खड़ी करने में प्रमुख भूमिका रही। उन्होंने कहा कि आज जो केंद्र में भारतीय जनता पार्टी की बहुमत की सरकार है, उसकी नींव में श्री अरुण जी, श्रीमती सुषमा जी के संघर्ष का भी महत्त्वपूर्ण योगदान है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि आजादी के बाद पारदर्शी और मूल्य आधारित राजनीति करने वालों नेताओं की जब बात होगी तो दलगत राजनीति से परे ऐसे नेताओं में श्री जेटली जी का नाम प्रमुखता से लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि श्री जेटली जी ने हमेशा सार्वजनिक जीवन को नई ऊँचाइयों पर ले जाने और भ्रष्टाचार व काले धन के खिलाफ प्रखर रूप से संघर्ष करने के लिए काम किया है। उन्होंने कहा कि यह पुस्तक भ्रष्टाचार और घोटाले के खिलाफ देश की एवं जनता की आवाज है। उन्होंने कहा कि यह पुस्तक जहां एक ओर धारा 370 और जम्मू-कश्मीर की समस्या पर देश के विचारों का प्रतिबिम्ब है और सीबीआई को तोता बनाने की प्रक्रिया के खिलाफ देश को जागृत करने का काम करती है, तो वहीं दूसरी ओर यह न्यायतंत्र से जनता की अपेक्षा, न्यायतंत्र की मर्यादा और उसकी दिशा को भी रेखांकित करती है। उन्होंने कहा कि यह पुस्तक जहां एक ओर सोशल मीडिया के महत्त्व को दर्शाती है तो वहीं दूसरी ओर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया को आईना दिखाने का भी काम करती है। उन्होंने कहा कि छद्म धर्मनिरपेक्षता और आतंकवाद के खिलाफ संघर्ष की प्रेरणास्रोत है यह पुस्तक।

श्री शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्त्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने हर क्षेत्र में नई उंचाइयां हासिल करने का प्रयास कर राष्ट्र को विश्व के अग्रिम पंक्ति में शामिल करने का काम किया है। उन्होंने कहा कि श्री अरुण जेटली जी ने ढ़ाई सालों में ही ऐसा काम करके दिखाया है कि आज पूरी दुनिया यह स्वीकार करने लगी है कि भारत विश्व में सबसे तेज गति से विकास करने वाली अर्थव्यवस्थाओं में से एक है। उन्होंने कहा कि जीएसटी और कालेधन की घोषणा मोदी सरकार की बड़ी उपलब्धियों में से एक है और यह दोनों श्री अरुण जी के ही विभाग से ही सम्बद्ध है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि देश की जनता यह जानती है कि कांग्रेस देश के खजाने को किस हालत में छोड़ कर गई थी, इसके बावजूद देश के गरीब, किसान और युवाओं के लिए प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, स्किल डेवलपमेंट, जीवन ज्योति बीमा, जीवन सुरक्षा बीमा, अटल पेंशन योजना, फ्री स्वास्थ्य बीमा योजना, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना जैसी कई लोक-कल्याणकारी योजनाओं को शुरू किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्त्व में जहां भारत दुनिया में सबसे तेज गति से विकास करने वाली अर्थव्यवस्था बना, वहीं दूसरी ओर गरीब से गरीब व्यक्ति का भी विकास कर उसे समाज की मुख्यधारा में लाने का काम हुआ है। उन्होंने कहा कि यह बहुत बड़ी सफलता है और इसके पीछे श्री अरुण जेटली एवं उनके विभाग का योगदान काफी महत्त्वपूर्ण है।

श्री शाह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के नई पीढ़ी के नेता और कार्यकर्ता व देश की जनता श्री जेटली जी के भाषणों एवं उनके द्वारा लिखे हुए आलेखों से बहुत कुछ सीख सकते हैं, उन्हें सोचने की दिशा मिल सकती है, साथ ही काफी सूचनाएं भी मिल सकती है। उन्होंने जन-जन तक श्री जेटली जी के ब्लॉग एवं आलेखों को हिंदी में पहुंचाने के लिए प्रभात प्रकाशन और उनकी पूरी टीम का ह्रदय से आभार प्रकट किया एवं उन्हें शुभकामनाएं दीं। इस अवसर पर श्री अरुण जेटली जी ने भी अपने विचार प्रकट किये।

Download PDF (Endlish)

Download PDF (Hindi)