Salient points of speech by BJP National President Shri Amit Shah Release of Coffee Table Book on Prime Minister Shri Narendra Modi at Mavlankar Hall, New Delhi

Wednesday, 12 July 2017


भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह द्वारा प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की जीवनी पर रचित पुस्तक ‘द मेकिंग ऑफ़ ए लीजेंड' के लोकार्पण अवसर पर दिए गए उद्बोधन के मुख्य बिंदु


श्री नरेन्द्र मोदी सरकार के तीन वर्ष के कार्यकाल की सबसे बड़ी उपलब्धि विकास की पंक्ति में खड़े हुए अंतिम व्यक्ति को अपने जीवन स्तर को ऊपर उठाने का मौक़ा देना है: अमित शाह
*********
पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी के अंत्योदय के सिद्धांत पर विकास की दौर में पिछड़ गए समाज के अंतिम व्यक्ति के जीवन में बदलाव कैसे लाया जाता है, यह मोदी सरकार ने तीन साल में करके दिखाया है: अमित शाह
*********
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी एक ऐसे भारत का निर्माण करना चाहते हैं जहां हर घर में बिजली हो, हर घर में शौचालय हो, हर घर में गैस कनेक्शन हो और हर गाँव में पक्की सड़कें हों: अमित शाह
*********
ये सारे काम आजादी के 70 साल बाद हमें पूरे करने पड़ रहे हैं क्योंकि इसे पहले पूरा नहीं किया गया, यदि ये सारे काम 70 सालों में पूरे कर लिए गए होते तो देश कहीं आगे बढ़ चुका होता: अमित शाह
*********
मोदी सरकार ने तीन साल में यह सिद्ध कर दिया है कि वह कृषि के साथ-साथ औद्योगिक विकास पर भी बल देगी, गाँवों के साथ-साथ शहरों का भी विकास करेगी और इकोनॉमिक रिफॉर्म्स के साथ-साथ वेलफेयर स्टेट की अवधारणा पर भी काम करेगी: अमित शाह
*********
आजादी के बाद श्री नरेन्द्र मोदी शायद एकमात्र ऐसे प्रधानमंत्री हैं जिन्होंने तीन साल में एक दिन की भी छुट्टी नहीं ली: अमित शाह
*********
2014 का जनादेश किसी चुनावी अभियान के बलबूते हासिल नहीं किया जा सकता, किसी पार्टी के कारण प्राप्त नहीं किया जा सकता, यह प्रचंड जनादेश भारतीय जनता पार्टी और श्री नरेन्द्र मोदी को भारत की सवा सौ करोड़ जनता के मन का आशीर्वाद है: अमित शाह
*********
हम दुनिया के सभी देशों के साथ अच्छे संबंध चाहते हैं, हम वसुधैव कुटुम्बकम की भावना के साथ आगे बढ़ना चाहते हैं लेकिन इसके साथ-साथ हम अपनी सीमाओं व संप्रभुता को भी अक्षुण्ण रखना जानते हैं: अमित शाह
*********

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने आज नई दिल्ली के मावलंकर हॉल में आज सुलभ इंटरनेशनल के संस्थापक श्री बिन्देश्वरी पाठक द्वारा प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के जीवन पर लिखित पुस्तक ‘द मेकिंग ऑफ़ ए लीजेंड' के लोकार्पण अवसर पर आयोजित एक सभा को संबोधित किया और श्री मोदी के जीवन के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की। पुस्तक का विमोचन परम पूज्य सरसंघचालक श्री मोहन भागवत और श्री अमित शाह के कर-कमलों द्वारा किया गया।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि हम सभी कार्यकर्ता प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के व्यक्तित्व के एक ही हिस्से से परिचित हैं कि कैसे गरीबी से निकल कर श्री नरेन्द्र मोदी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े, संघ प्रचारक बने, फिर भारतीय जनता पार्टी में राष्ट्रीय स्तर पर संगठन के विभिन्न पदों पर अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते हुए में गुजरात के प्रधानमंत्री बने और अब देश का नेतृत्व कर सबका साथ, सबका विकास के सिद्धांत पर भारतवर्ष को आगे ले जाने का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि गुजरात के मुख्यमंत्री बनने के बाद श्री नरेन्द्र मोदी ने जिस तरह से काम किया, उसके एक अलग पहलू की ओर आप सभी का ध्यान आकर्षित करना चाहता हूँ। उन्होंने कहा कि कांग्रेस-नीत यूपीए के शासनकाल में देश के अंदर एक अलग तरह का माहौल सृजित हुआ, लोग यह सोचने पर विवश होने लगे थे कि क्या हमारी बहुपक्षीय लोकतांत्रिक संसदीय व्यवस्था असफल हो जायेगी, लोगों यह मानने लगे थे कि यदि इसी प्रकार का अस्थिरता का माहौल लंबे समय तक देश में चलता है तो न तो देश की दिशा निश्चित हो सकती है और न ही देश की समस्याओं का निवारण हो सकता है। उन्होंने कहा कि गुजरात का मुख्यमंत्री बनने के बाद श्री नरेन्द्र मोदी ने गुजरात की दशकों पुरानी गंभीर से गंभीर समस्याओं का सहजता से निवारण किया। उन्होंने कहा कि गुजरात की सबसे बड़ी समस्या गिरता हुआ जलस्तर थी। उन्होंने कहा कि श्री नरेन्द्र मोदी ने इस क्षेत्र में काम करने वाले कई लोगों से विस्तृत चर्चा करके राज्य में जल संचय का एक बहुत बड़ा आंदोलन शुरू किया और एक ही साल में एक लाख 60 हजार से ज्यादा चेक डैम बनाकर गुजरात के गिरते हुए जलस्तर को ऊपर उठाने का काम किया गया। उन्होंने कहा कि इसके बाद माँ नर्मदा के पानी को सरस्वती तक ले जाने का काम किया गया, राज्य की 21 नदियों में माँ नर्मदा के जल को पहुंचाया गया, राज्य के लगभग 11 हजार तालाबों में जल संचय किया गया और अंततोगत्वा श्री नरेन्द्र मोदी गुजरात को डार्क जोन से बाहर निकालने में सफल हुए।

श्री शाह ने कहा कि स्वरोजगार पर बल देने का अभिनव प्रयोग श्री नरेन्द्र मोदी ने गुजरात में ही शुरू किया था। उन्होंने कहा कि सवा सौ करोड़ के देश में केवल नौकरी बेरोजगारी की समस्या का समाधान नहीं कर सकती, इसलिए श्री नरेन्द्र मोदी ने गुजरात के मुख्यमंत्री रहते हुए ही स्वरोजगार और कौशल विकास का मॉडल राज्य में लागू करके बेरोजगारी की समस्या का समाधान करने का सफल प्रयास किया। उन्होंने कहा कि आज जब यह पूछा जाता है कि मोदी सरकार ने कितना रोजगार दिया तो मैं बस इतना ही कहना चाहता हूँ कि केवल प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के माध्यम से देश के सात करोड़ 28 लाख से अधिक लोगों को स्वरोजगार दिया गया है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि जब श्री नरेन्द्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे, तब उन्होंने राज्य में औद्योगिक विकास को प्रायोरिटी दी, वाइब्रेंट गुजरात के रूप में एक ऐसा मॉडल देश के सामने रखा जिसे इन्वेस्टमेंट के लिए आज देश के लगभग सभी राज्य अपना रहे हैं। उन्होंने कहा कि औद्योगिक विकास के साथ - साथ श्री नरेन्द्र मोदी ने गुजरात में कृषि विकास पर भी बल दिया। उन्होंने कहा कि लगातार छह साल तक 12% से ज्यादा कृषि विकास दर का लक्ष्य हासिल करने वाला देश का एक मात्र राज्य गुजरात बना, इसी तरह श्री मोदी की अगुआई में गुजरात ने लगातार 10 सालों तक 12% से ज्यादा जीडीपी का लक्ष्य हासिल किया। उन्होंने कहा कि यह गुजरात में श्री नरेन्द्र मोदी के किये गए विकास कार्यों का ही प्रतिफल था कि देश की जनता को श्री नरेन्द्र मोदी के रूप में आशा की एक नई किरण दिखाई दी और 2014 में व्यापक जनादेश के साथ देश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनाने का मार्ग प्रशस्त हुआ। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के 10 वर्षों के कुशासन के कारण देश भर में अराजकता व्याप्त थी, युवा आक्रोशित थे, महिलायें अपने आप को सुरक्षित महसूस नहीं कर रही थी, अर्थव्यवस्था चरमराई हुई थी और ऐसी विषम परिस्थिति में देश की जनता ने श्री नरेंद्र मोदी को अपना प्रचंड जनादेश दिया, आजादी के बाद पहली बार देश में किसी गैर-कांग्रेसी पार्टी को पूर्ण बहुमत प्राप्त हुआ और श्री नरेन्द्र मोदी देश के प्रधानमंत्री बने। उन्होंने कहा कि जनता का यह जनादेश किसी चुनावी अभियान के बलबूते हासिल नहीं किया जा सकता, किसी पार्टी के कारण प्राप्त नहीं किया जा सकता, यह प्रचंड जनादेश भारतीय जनता पार्टी और श्री नरेन्द्र मोदी को भारत की सवा सौ करोड़ जनता के मन का आशीर्वाद है।

श्री शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री बनने के बाद हम लोग विगत तीन वर्षों से उन्हें काम करते हुए देख रहे हैं। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद वे शायद एकमात्र ऐसे प्रधानमंत्री हैं जिन्होंने तीन साल में एक दिन की भी छुट्टी नहीं ली। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार की तीन साल की उपलब्धियों की सूची बहुत लंबी है लेकिन यहाँ कुछ बिंदुओं पर चर्चा करना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि पहले सरकार बनते ही यह चर्चा छिड़ जाती थी कि यह सरकार कृषि का विकास करने वाली होगी या उद्योगों का विकास करने वाली, यह सरकार गाँव के विकास को प्रधानता देगी अथवा शहरों के विकास को, यह सरकार इकोनॉमिक रिफॉर्म्स लायेगी अथवा वेलफेयर स्टेट की अवधारणा पर काम करेगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने देश को इन तीनों तरह के अंतर्द्वंदों से निजात दिलाने का काम किया है। उन्होंने कहा कि इस सरकार ने तीन साल में यह सिद्ध कर दिया है कि मोदी सरकार कृषि के साथ-साथ औद्योगिक विकास पर भी बल देगी, गाँवों के साथ-साथ शहरों का भी विकास करेगी और इकोनॉमिक रिफॉर्म्स के साथ-साथ वेलफेयर स्टेट की अवधारणा पर भी काम करेगी।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि जब देश में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की सरकार केंद्र में बनी तब दुनिया भर के पंडित यह सोचते थे कि भारत की विदेश नीति किस तरह की करवट लेगी। उन्होंने कहा कि विदेश नीति के मामले में भी श्री नरेन्द्र मोदी सरकार ने एक अनूठा प्रयोग किया है। उन्होंने कहा कि हम दुनिया के सभी देशों के साथ अच्छे संबंध चाहते हैं, हम वसुधैव कुटुम्बकम की भावना के साथ आगे बढ़ना चाहते हैं लेकिन इसके साथ-साथ हम अपनी सीमाओं व संप्रभुता को भी अक्षुण्ण रखना जानते हैं। उन्होंने कहा कि श्री नरेन्द्र मोदी सरकार ने इन दोनों कार्यों को एक साथ करके दिखाया है। उन्होंने कहा कि मुझसे कई बार मोदी सरकार की तीन वर्ष की उपलब्धियों के बारे में प्रश्न पूछा जाता है और हर बार मैंने कहा कि श्री नरेन्द्र मोदी सरकार के तीन वर्ष के कार्यकाल की सबसे बड़ी उपलब्धि विकास की पंक्ति में खड़े हुए अंतिम व्यक्ति को अपने जीवन स्तर को ऊपर उठाने का मौक़ा देना है। उन्होंने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी के अंत्योदय के सिद्धांत पर विकास की दौर में पिछड़ गए समाज के अंतिम व्यक्ति के जीवन में बदलाव कैसे लाया जाता है, यह मोदी सरकार ने तीन साल में करके दिखाया है। उन्होंने कहा कि देश में चार करोड़ 38 लाख से ज्यादा शौचालय निर्माण कर के मोदी सरकार ने देश की करोड़ों महिलाओं व बच्चियों को सम्मान के साथ जीने का रास्ता दिखाया है, उन्हें अपने जीवन के बारे में सपने देखने का मौक़ा दिया है। उन्होंने कहा कि यह सोच तभी आ सकती है जब कोई व्यक्ति गरीबी में पला-बढ़ा हो, गरीबी को जिया हो और संघर्ष करके जीवन में आगे बढ़ा हुआ हो। उन्होंने कहा कि 2014 में मोदी सरकार के बनने से पहले तक देश में साढ़े 12 करोड़ गैस सिलिंडर वितरित किये गए गए थे, इसमें से लगभग 11 करोड़, 80 लाख सिलिंडर केवल शहरी क्षेत्रों में बांटे गए थे, श्री नरेन्द्र मोदी ने यह तय किया है कि 2019 तक देश के पांच करोड़ गरीब महिलाओं के घर में गैस सिलिंडर पहुंचाने का काम पूरा कर लिया जाएगा, अब तक लगभग दो करोड़ गरीब महिलाओं के घर में गैस सिलिंडर पहुंचाने का काम पूरा कर लिया गया है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के तीन साल में लगभग 13 हजार से अधिक घरों में बिजली पहुंचाई गयी है, देश के लगभग 28 करोड़ लोगों के बैंक अकाउंट खोले गए हैं। उन्होंने कहा कि अगले साल मई तक देश में ऐसा एक भी गाँव नहीं होगा जहां पर बिजली न पहुँची हो। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी एक ऐसे भारत का निर्माण करना चाहते हैं जहां हर घर में बिजली हो, हर घर में शौचालय हो, हर घर में गैस कनेक्शन हो और हर गाँव में पक्की सड़कें हों। उन्होंने कहा कि ये सारे काम आजादी के 70 साल बाद हमें पूरे करने पड़ रहे हैं क्योंकि इसे पहले पूरा किया नहीं गया, यदि ये सारे काम 70 सालों में पूरे कर लिए गए होते तो देश कहीं आगे बढ़ चुका होता।

श्री शाह ने कहा कि आज श्री नरेन्द्र मोदी दुनिया में कहीं भी जाते हैं तो अपने देश की संस्कृति को भी वहां पहुंचाने का काम करते हैं। उन्होंने कहा कि 21 जून को हम जब दुनिया के 170 देशों में योग होता हुआ देखते हैं तो मन प्रफुल्लित हो उठता है। उन्होंने कहा कि आज विश्व समस्याओं के समाधान के लिए भारत की ओर आशा भरी निगाहों से देख रहा है चाहे वह जलवायु परिवर्तन की समस्या हो या आतंकवाद से लड़ने की रणनीति। उन्होंने कहा कि श्री बिन्देश्वर पाठक जी द्वारा रचित यह पुस्तक पूरी दुनिया के लोगों को श्री नरेन्द्र मोदी जी के जीवन और उनके संघर्षों से रू-ब-रू करायेगी। उन्होंने कहा कि मैं इस उत्कृष्ट रचना के लिए श्री पाठक जी और उनकी टीम को बहुत-बहुत शुभकामनाएं देता हूँ और पार्टी की ओर से धन्यवाद ज्ञापित करता हूँ।


Download PDF