Salient points of the speech of BJP National President Shri Amit Shah during public meetings at Ukhrul and Imphal Central in Manipur

Wednesday, 01 March 2017


भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह द्वारा उखरुल और इंफाल सेंट्रल (मणिपुर) में किये गए प्रेस कांफ्रेंस के मुख्य बिंदु


हमारे लिए मणिपुर उतना ही महत्त्वपूर्ण है जितना कि उत्तर प्रदेश। हम मणिपुर को ईस्ट का गेटवे बनाना चाहते हैं लेकिन इबोबी सिंह सरकार मणिपुर में विकास करना ही नहीं चाहती: अमित शाह
*********
यदि मणिपुर में पूर्ण बहुमत की भाजपा सरकार बनती है तो प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के मार्गदर्शन में हम मणिपुर को पांच सालों में ही एक मॉडल स्टेट बनायेंगें: अमित शाह
*********
हमने तय किया है कि यदि मणिपुर में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनती है तो हर घर में एक रोजगार देने का काम किया जाएगा: अमित शाह
*********
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने मणिपुर में स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी खोलने की योजना को मंजूरी दी लेकिन इबोबी सिंह सरकार ने इसके लिए जमीन ही नहीं दी। यदि राज्य में भाजपा सरकार आती है तो एक ही साल में स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी का निर्माण कार्य पूरा कर लिया जाएगा: अमित शाह
*********
कांग्रेस नागा एकॉर्ड पर जनता को गुमराह कर रही है। प्रधानमंत्री जी ने दो टूक शब्दों में स्पष्ट कर दिया है, मैं भी फिर से कहना चाहता हूँ कि मणिपुर की टेरिटोरियल पर 1 इंच भी अतिक्रमण नहीं होने दिया जाएगा, इसकी संस्कृति और विरासत पर भी आंच नहीं आने दी जायेगी: अमित शाह
*********
मणिपुर की इबोबी सिंह सरकार राजनीतिक कारणों से ब्लॉकेज को ख़त्म नहीं करना चाहती, राज्य में यदि भाजपा सरकार बनती है तो 24 घंटे में ही ब्लॉकेज को समाप्त कर दिया जाएगा: अमित शाह
*********
कांग्रेस और करप्शन दोनों एक ही सिक्के के दो पहलू हैं - सी फॉर कांग्रेस एंड सी फॉर करप्शन: अमित शाह
*********
जहां एक ओर भारतीय जनता पार्टी के मुख्यमंत्रियों को उनके विकास कार्यों की उपलब्धि के लिए जाना जाता है, वहीं दूसरी ओर मणिपुर के मुख्यमंत्री इबोबी सिंह को मिस्टर टेन परसेंट के रूप में जाना जाता है: अमित शाह
*********
कल राहुल गांधी मणिपुर आये थे, राहुल ने कहा कि हम मणिपुर के नारियल के जूस को एक्सपोर्ट करेंगें, अरे राहुल जी, नारियल का पानी होता है, जूस नहीं और मणिपुर में पाइनएप्पल होता है, कोकोनट नहीं: अमित शाह
*********
विकास की अपार संभावनाओं वाले मणिपुर में 15 सालों से एक ऐसी निकम्मी सरकार चल रही है जिसने मणिपुर की किसी भी पॉसिबिलिटी को एक्सप्लोर नहीं किया, केवल और केवल कमीशन लेने का ही काम किया: अमित शाह
*********
15 साल तक कांग्रेस की करप्ट इबोबी सिंह सरकार ने मणिपुर की जनता का जो पैसा खाया है, उसके पाई-पाई का हिसाब करके भ्रष्टाचारियों पर कठोर कार्रवाई की जायेगी क्योंकि यह पैसा मणिपुर के युवाओं, महिलाओं, गरीब मज़दूरों और किसानों का है: अमित शाह
*********
हम मणिपुर को एक ऐसा राज्य बनाना चाहते हैं जहां कानून-व्यवस्था की स्थिति ठीक हो, जहां अंडरग्राउंड ग्रुप्स का आतंक न हो, जहां से बेरोजगारी समाप्त हो गई हो और जहां पर इंटरनेशनल टूरिज्म तेजी से आगे बढ़े: अमित शाह
*********

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने आज मणिपुर के उखरुल और इंफाल सेंट्रल में आयोजित विशाल जन-सभाओं को संबोधित किया और मणिपुर की बदहाली के लिए इबोबी सिंह की कांग्रेस सरकार पर जमकर प्रहार किया। उन्होंने मणिपुर की जनता से राज्य के विकास के लिए भारतीय जनता पार्टी की पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने की अपील की।

श्री शाह ने कहा कि देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश और छोटे से खूबसूरत प्रदेश मणिपुर, दोनों जगह चुनाव चल रहा है लेकिन हमारे लिए मणिपुर उतना ही महत्त्वपूर्ण है जितना कि उत्तर प्रदेश, प्रधानमंत्री जी भी यहाँ आये, श्री राजनाथ सिंह जी भी आये और मैं भी दो दिन से मणिपुर के तीनों क्षेत्रों का भ्रमण किया है। उन्होंने कहा कि 15 साल की भ्रष्ट इबोबी सिंह सरकार के बावजूद यदि मणिपुर की जनता इस बार राज्य में परिवर्तन नहीं करती है तो मैं मानता हूँ कि मणिपुर विकास में बहुत ही पीछे चला जाएगा। उन्होंने कहा कि विकास की अपार संभावनाओं वाले मणिपुर में 15 सालों से एक ऐसी निकम्मी सरकार चल रही है जिसने मणिपुर की किसी भी पॉसिबिलिटी को एक्सप्लोर नहीं किया, केवल और केवल कमीशन लेने का ही काम किया। उन्होंने कहा कि यदि मणिपुर में पूर्ण बहुमत की भाजपा सरकार बनती है तो हम पांच सालों में ही मणिपुर को एक मॉडल स्टेट के रूप में प्रतिष्ठित कर के दिखाएंगें। उन्होंने कहा कि हम मणिपुर को एक ऐसा राज्य बनाना चाहते हैं जहां कानून-व्यवस्था की स्थिति ठीक हो, जहां अंडरग्राउंड ग्रुप्स का आतंक न हो, जहां से बेरोजगारी समाप्त हो गई हो, जहां पर इंटरनेशनल टूरिज्म तेजी से आगे बढ़े और यह काम केवल भारतीय जनता पार्टी ही कर सकती है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस और करप्शन दोनों एक ही सिक्के के दो पहलू हैं - सी फॉर कांग्रेस एंड सी फॉर करप्शन। उन्होंने कहा कि देश भर में कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक एक-के-बाद-एक राज्यों से कांग्रेस का सफाया होता जा रहा है, राज्य कांग्रेस-मुक्त होते जा रहे हैं। राज्य की जनता से मणिपुर को भी कांग्रेस-मुक्त राज्य बनाने का आह्वान करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस की इबोबी सिंह सरकार ही 15 सालों से मणिपुर में विकास को अवरुद्ध किये बैठी है। उन्होंने कहा कि जहां एक ओर भारतीय जनता पार्टी के मुख्यमंत्रियों को उनके विकास कार्यों की उपलब्धि के लिए जाना जाता है, वहीं दूसरी ओर मणिपुर के मुख्यमंत्री इबोबी सिंह को मिस्टर टेन परसेंट के रूप में जाना जाता है। उन्होंने कहा कि भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री जीडीपी और कृषि विकास दर को लगातार 10% से ऊपर रखने के लिए जाने जाते हैं लेकिन इबोबी सिंह हर काम में 10% कमीशन लेने के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि डेवलपमेंट और टेन परसेंट दोनों एक साथ नहीं चल सकते, मणिपुर की जनता को इस बार राज्य में परिवर्तन करना ही होगा।

श्री शाह ने कहा कि कल की प्रेस वार्ता में कुछ पत्रकार इबोबी सिंह के भ्रष्टाचार के सबूत को लेकर प्रश्न कर रहे थे, मैंने कहा कि करप्शन की कोई रसीद नहीं होती, यदि प्रूफ ही चाहिए तो ये बताइये कि विगत 15 सालों से जो केंद्र सरकार की योजनायें मणिपुर में चल रही है, इबोबी सिंह की सरकार ने इनमें से किसी भी योजना का यूटिलाइजेशन सर्टिफ़िकेट और वर्क कम्पलीशन सर्टिफ़िकेट क्यों अब तक सबमिट नहीं किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की इबोबी सिंह की सरकार इन योजनाओं के वर्क कम्पलीशन सर्टिफिकेट और यूटिलाइजेशन सर्टिफिकेट को अब तक इसलिए सबमिट नहीं करा पाई क्योंकि ये योजनायें अभी तक समाप्त ही नहीं हुई है जबकि खर्चा हो गया है। उन्होंने कहा कि मणिपुर की जनता इस बार के चुनाव में इबोबी सिंह जी से इस बात का हिसाब मांगे कि जब काम पूरा ही नहीं हुआ और पैसा ख़त्म हो गया तो यह पैसा गया कहाँ? उन्होंने कहा कि मणिपुर में 2016 में फ़ूड सिक्यूरिटी एक्ट लागू होने के बाद केंद्र सरकार द्वारा जो लाखों टन अनाज भेजे गए, वह कहाँ गया, इबोबी सिंह कम-से-कम इसका ही हिसाब दे दें। उन्होंने कहा कि इसी तरह मणिपुर की कांग्रेस सरकार के पास मनरेगा की भी कोई फैक्ट शीट नहीं है कि आखिर केन्द्र सरकार द्वारा मनरेगा के तहत मणिपुर के मज़दूरों और गरीबों के लिए भेजा गया पैसा गया कहाँ? उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा विकास कार्यों एवं मणिपुर के गरीब, किसान, मज़दूर, युवाओं की भलाई के लिए दी गई राशि को मणिपुर कांग्रेस के भ्रष्ट नेता व मंत्री हजम कर गए हैं। उन्होंने कहा कि सोनिया गांधी और मनमोहन सिंह जी को बुला कर इबोबी सिंह आधी-अधूरी योजनाओं का उद्घाटन करवा के जो मणिपुर की जनता की आँखों में धूल झोंकने का प्रयास कर रहे हैं, इससे मणिपुर की जनता भलीभांति परिचित है, वह इस चुनाव में कमल पर बटन दबा कर के इबोबी सिंह को इसका माकूल जवाब देगी।

राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि कल राहुल गांधी मणिपुर आये थे, राहुल ने कहा कि हम मणिपुर के नारियल के जूस को एक्सपोर्ट करेंगें, अरे राहुल जी, नारियल का पानी होता है, जूस नहीं और मणिपुर में पाइनएप्पल होता है, कोकोनट नहीं, या तो इबोबी सिंह ने सही से भाषण लिख कर दिया नहीं या फिर राहुल गांधी को पाइनएप्पल और कोकोनट में अंतर ही नहीं मालूम।

श्री शाह ने कहा कि 15 साल तक कांग्रेस की करप्ट इबोबी सिंह सरकार ने मणिपुर की जनता का जो पैसा खाया है, उसके पाई-पाई का हिसाब करके भ्रष्टाचारियों पर कठोर कार्रवाई की जायेगी क्योंकि यह पैसा मणिपुर के युवाओं के रोजगार, महिलाओं के हेल्थ और उनकी सुरक्षा, गरीब मज़दूर और किसानों का है। उन्होंने कहा कि हमने अपने घोषणापत्र में मणिपुर के विकास का एजेंडा तैयार किया है, हमने तय किया है कि यदि मणिपुर में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनती है तो हर घर में एक रोजगार देने का काम किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यदि मणिपुर के प्राकृतिक सौंदर्य की सही से मार्केटिंग की जाय तो स्विट्जरलैंड से भी ज्यादा टूरिस्ट के मणिपुर में आने की संभावना बन सकती है। उन्होंने कहा कि मणिपुर में ऑर्गेनिक एग्रीकल्चर की बेहतर संभावनाएं हैं, यदि मणिपुर को 100% ऑर्गेनिक एग्रीकल्चरल स्टेट के रूप में स्थापित किया जाय तो यहाँ के किसानों के इनकम में कई गुना की बढ़ोत्तरी हो सकती है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के मार्गदर्शन में सिक्किम एक ऑर्गेनिक एग्रीकल्चरल स्टेट के रूप में आगे बढ़ा है, हम ऐसे ही मणिपुर को भी इस मामले में आगे ले जा जायेंगें। उन्होंने कहा कि यदि मणिपुर के युवाओं को आईटी की ट्रेनिंग दी जाय तो यहाँ के युवा यहीं रखकर देश और विदेश के युवा आईटी प्रोफेशनल्स के साथ प्रतिस्पर्द्धा कर सकते हैं और रोजगार को यहाँ ला सकते हैं लेकिन इबोबी सिंह की सरकार ऐसा कुछ भी करने में विफल रही है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि मणिपुर के युवाओं में इतनी प्रतिभा है कि वे भारत के ओलंपिक मैडल्स के ढेर लगा सकते हैं, इसके लिए केंद्र में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की सरकार बनने के बाद मणिपुर में एक स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी खोलने की योजना तैयार की गई है लेकिन मणिपुर की इबोबी सिंह सरकार ने इसके लिए जमीन ही नहीं दी, जो जमीन दी, उस पर स्विमिंग पूल तो बन सकता है लेकिन स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी नहीं। उन्होंने कहा कि यदि राज्य में भाजपा की सरकार बनती है तो एक ही साल में स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी का निर्माण कार्य पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा केंद्र की भाजपा सरकार ने आईआईटी के लिए भी मणिपुर को लगभग 10 करोड़ से अधिक रुपया दिया है लेकिन मणिपुर सरकार डेढ़ करोड़ रुपये भी अब तक खर्च नहीं कर पाई है। उन्होंने कहा कि हमने 22,000 करोड़ रुपये की लागत से रोड के भी कई प्रोजेक्ट्स को हरी झंडी दी है लेकिन इबोबी सिंह सरकार ने इस पर भी काम शुरू नहीं किया। उन्होंने कहा कि हम मणिपुर को रेलवे से जोड़ने की योजनाओं पर भी काम कर रहे हैं, दो वर्ष के अंदर ही मणिपुर को रेलवे से जोड़ने का काम पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि मणिपुर में मोदी सरकार ने एक फिल्म एंड टीवी इंस्टिट्यूट ओपन करने की योजना को भी मंजूरी दी लेकिन मणिपुर की कांग्रेस सरकार इस पर भी काम शुरू नहीं कर पाई है। उन्होंने कहा कि हम मणिपुर को ईस्ट का गेटवे बनाना चाहते हैं लेकिन इबोबी सिंह सरकार मणिपुर में विकास करना ही नहीं चाहती।

मणिपुर भाजपा मुख्यालय पर कांग्रेस द्वारा किये गए हमले की घटना पर बोलते हुए श्री शाह ने कहा कि इबोबी सिंह जी, यदि आप इस प्रकार का हमला करके मणिपुर की जनता को डराने का जो स्वप्न आप देख रहे हैं, वह संभव नहीं है, हम आपके हिंसा का जवाब हिंसा से नहीं देंगें, राज्य की जनता कमल के निशान पर बटन दबा कर आपको इसका जवाब देगी।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस नागा एकॉर्ड पर मणिपुर की जनता को गुमराह करने का काम कर रही है, भारतीय जनता पार्टी कई बार यह स्पष्ट कर चुकी है, प्रधानमंत्री जी ने भी इस पर दो-टूक शब्दों में स्पष्ट रूप से कहा है, एक बार फिर से मैं इस बात को कहना चाहता हूँ कि मणिपुर की टेरिटोरियल पर एक इंच का भी अतिक्रमण कोई नहीं कर सकता, मणिपुर की टेरिटोरियल बाउंड्री की शत-प्रतिशत रक्षा की जायेगी, यहाँ की संस्कृति, यहाँ की विरासत और परंपराओं पर भी आंच नहीं आने दी जायेगी, इसको भी संभालने और संरक्षित करने का काम भारतीय जनता पार्टी की सरकार करेगी।

श्री शाह ने कहा कि मणिपुर की इबोबी सिंह सरकार राजनीतिक कारणों से ब्लॉकेज को ख़त्म नहीं करना चाहती, वह इससे चुनावी फायदा प्राप्त करना चाहती है लेकिन मणिपुर की जनता इबोबी सिंह की सरकार की हर चाल से वाक़िफ़ है, उसे पता है कि मणिपुर की कांग्रेस सरकार जान-बूझ कर ब्लॉकेज को ख़त्म नहीं करना चाहती। उन्होंने कहा कि मणिपुर में यदि भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनती है तो 24 घंटे में ही ब्लॉकेज को समाप्त कर दिया जाएगा।


Download PDF (English)

Download PDF (Hindi)