Salient Points : Press Conference of BJP National President, Shri Amit Shah at State BJP Office, Lucknow Uttar Pradesh

Tuesday, 07 June 2016


भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष, श्री अमित शाह द्वारा उत्तर प्रदेश भाजपा मुख्यालय, लखनऊ में किये गए प्रेस कांफ्रेंस के मुख्य बिंदु


मोदी सरकार द्वारा शुरू की गई जनोपयोगी योजनाओं को उत्तर प्रदेश की अखिलेश यादव सरकार राजनीतिक कारणों से राज्य की जनता तक पहुँचने ही नहीं दे रही: अमित शाह
*************
उत्तर प्रदेश सरकार की लापरवाही से राज्य के किसानों का नुकसान हो रहा है: अमित शाह
*************
अखिलेश सरकार भ्रष्टाचार और घोटाले में आकंठ डूबी हुई है: अमित शाह
*************
मथुरा में इतना कुछ होने के बाद भी सरकार मूकदर्शक बनी रही, पुलिस अधिकारियों को सरेआम बर्बरतापूर्वक मार दिया गया और उत्तर प्रदेश की सपा सरकार पर जूं तक नहीं रेंगी, इससे ज्यादा असंवेदनशील सरकार कोई और हो ही नहीं सकती: अमित शाह
*************
भाजपा उत्तर प्रदेश में सरकारी और निर्दोष गरीबों के जमीनों पर हो रहे अवैध कब्जे के खिलाफ जन-आंदोलन करेगी। हम एडमिनिस्ट्रेशन, लीगल और पब्लिक मूवमेंट के जरिये जमीनों को अवैध कब्जे से मुक्त करायेंगें: अमित शाह
*************
सपा सरकार दलितों का उत्पीड़न करती है और बसपा सरकार दलितों का उपयोग करती है पर दलितों की चिंता न तो सपा सरकार करती है और न ही बसपा सरकार: अमित शाह
*************
यदि उत्तर प्रदेश का ग्रोथ रेट डबल डिजिट में पहुंचा तो निश्चित रूप से देश का ग्रोथ रेट भी डबल डिजिट में होगा: अमित शाह
*************
उत्तर प्रदेश के विकास के बिना देश का विकास संभव ही नहीं है: अमित शाह ************ प्रधानमंत्री, श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्त्व में भारतीय जनता पार्टी ने देश को एक निर्णायक सरकार देने का काम किया है: अमित शाह
*************
कांग्रेस-नीत यूपीए सरकार भ्रष्टाचार और घोटालों की सरकार थी: अमित शाह
*************
मोदी सरकार के आने के साथ ही हमने यूपीए के समय बने घोर निराशा के माहौल को बदलने में सफलता पाई है और आज पूरी दुनिया फिर से यह मानने लगी है कि 21वीं सदी भारत की सदी है: अमित शाह
*************
इकॉनोमिक रिफॉर्म्स और जन-कल्याण की योजनाओं के बीच के द्वंद्व को समाप्त करते हुए हमने विकास योजनाओं को समाज के अंतिम छोर पर खड़े व्यक्ति तक पहुंचाने में सफलता पाई है: अमित शाह
*************
हमने इन दो वर्षों में हर 15 दिन में एक नया इनिशिएटिव लिया, उसे सही ढंग से जमीन पर उतारने का काम किया जिसका परिणाम यह रहा कि 2015 का वर्ष भारत के लिए कई मामलों में रिकॉर्ड तोड़ने वाला साल रहा है: अमित शाह
*************
भारत पिछले दो वर्षों से लगातार विश्व की सबसे तेज गति से विकास करनेवाली अर्थव्यवस्था बनी हुई है, हमने पिछली तिमाही में 7.9% की विकास दर हासिल की जो अपने आप में एक रिकॉर्ड है: अमित शाह
*************

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष, श्री अमित शाह ने आज, मंगलवार को उत्तर प्रदेश भाजपा मुख्यालय, लखनऊ में एक प्रेस वार्ता को संबोधित किया और उत्तर प्रदेश को बदहाली की ओर धकेलने के लिए गरीब एवं विकास विरोधी सपा की अखिलेश यादव सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने पिछले दो वर्षों में केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा किये जा रहे अनगिनत विकास कार्यों को गिनाते हुए कहा कि भाजपा प्रधानमंत्री, श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्त्व में हम देश के गाँव, गरीब, दलित, आदिवासी, पिछड़े, किसान, युवा एवं मजदूरों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध हैं।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री, श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्त्व में देश की सीमाएं सुरक्षित हैं, विदेशों में भारत के मान-सम्मान एवं प्रतिष्ठा में वृद्धि हुई है, विकास को अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाया गया है, हर गाँव तक - हर घर तक बिजली पहुंचाई जा रही है, कई योजनाओं के द्वारा जनता की समस्याओं का समाधान किया जा रहा है मगर उत्तर प्रदेश में हम गाँव, गरीब, दलित और किसानों की भलाई के लिए शुरू की गई योजनाओं को जनता तक बहुत अच्छे तरीके से नहीं पहुंचा पाए हैं और ऐसा उत्तर प्रदेश की सपा सरकार की उदासीनता के कारण हो रहा है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की अखिलेश सरकार राजनीतिक कारणों से मोदी सरकार द्वारा शुरू की गई जनोपयोगी योजनाओं को जनता तक पहुँचने ही नहीं दे रही। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का उदाहरण देते हुए श्री शाह ने कहा कि कल तक तो इसके लिए टेंडर भी नहीं निकाले गए थे, न ही किसानों को बीमा देने की शुरुआत ही अखिलेश सरकार ने अब तक शुरू की है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार की लापरवाही से राज्य के किसानों का नुकसान हो रहा है। उन्होंने कहा कि यूपी में 75 में से लगभग 40 जिलों का डीपीआरओ भी अभी तक नहीं बन पाया है, मनारेगा में धन का दुरुपयोग हो रहा है, राज्य में मनारेगा के मजदूरों का इ-रजिस्टर भी अब तक नहीं बन पाया है जिसके कारण मजदूरों को भुगतान नहीं हो रहा है, प्रदेश में राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के लिए प्रदत्त 220 करोड़ रुपये की राशि में से केवल 1% राशि ही खर्च हो पाई है, महिला बचत समूह योजना में अब तक एक भी पैसा खर्च नहीं हुआ है, स्वास्थ्य मोर्चे पर भी राज्य सरकार केवल 16% की राशि ही खर्च कर पाई है और प्रधानमंत्री आवास योजना पर भी यूपी सरकार कछुए की गति से काम कर रही है।

श्री शाह ने कहा कि केंद्र की सारी विकास योजनाओं को अखिलेश सरकार ने रोक कर रखा है, अखिलेश सरकार भ्रष्टाचार और घोटाले में आकंठ डूबी हुई है। उन्होंने कहा कि छात्रवृत्ति में घोटाला, यादव सिंह के जरिये भ्रष्टाचार, जननी सुरक्षा में घोटाला, खनन घोटाला - इस तरह के भ्रष्टाचार के कई मामले सामने आये हैं। उन्होंने कहा कि महिलाओं के खिलाफ होनेवाले अपराध में भी काफी वृद्धि हुई है। उन्होंने कहा कि घोटालों की जांच में भी उत्तर प्रदेश की अखिलेश सरकार लीपापोती का काम कर रही है। श्री शाह ने कहा कि मथुरा की घटना पूरे देश के लिए चिंता का विषय है। उन्होंने कहा कि मथुरा में इतना कुछ होने के बाद भी सरकार मूकदर्शक बनी रही, पुलिस अधिकारियों को सरेआम बर्बरतापूर्वक मार दिया गया और उत्तर प्रदेश की सपा सरकार पर जूं तक नहीं रेंगी। उन्होंने कहा कि इससे ज्यादा असंवेदनशील सरकार कोई और हो ही नहीं सकती। उन्होंने कहा कि भाजपा उत्तर प्रदेश में सरकारी और निर्दोष गरीबों के जमीनों पर हो रहे अवैध कब्जे के खिलाफ जन-आंदोलन करेगी। उन्होंने कहा कि हमारी प्रदेश इकाई कल ही एक ईमेल जारी करेगी जिसपर इस तरह के अवैध कब्जे के खिलाफ शिकायत रजिस्टर कराई जा सकेगी। उन्होंने कहा कि हम एडमिनिस्ट्रेशन, लीगल और पब्लिक मूवमेंट के जरिये जमीनों को अवैध कब्जे से मुक्त करायेंगें। श्री शाह ने कहा कि अखिलेश यादव भ्रष्टाचार के मुद्दे पर राज्य में सत्ता में आये थे, विपक्ष में रहते हुए उन्होंने बसपा द्वारा किये गए भ्रष्टाचार पर काफी प्रखर होकर हमला बोला था और दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की बात कही थी, मैं अखिलेश यादव से पूछना चाहता हूँ कि आज सपा सरकार के पांच साल होने को आये, अभी तक एक भी दोषी पर कार्रवाई क्यों नहीं हुई? उन्होंने कहा कि ऐसा इसलिए नहीं हुआ क्योंकि सपा और बसपा में सांठ-गाँठ है, सपा जब सत्ता में आती है तो वह तमाम सबूतों के बावजूद किसी भी बसपाई पर कार्रवाई नहीं करती, इसी तरह जब बसपा सत्ता में आती है तो वह भी हर तरह की जाँच रिपोर्टों के बावजूद किसी भी सपाई पर कारवाई नहीं करती। उत्तर प्रदेश में दलितों की स्थिति पर पूछे गए एक सवाल के उत्तर में भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि सपा सरकार दलितों का उत्पीड़न करती है और बसपा सरकार दलितों का उपयोग करती है पर दलितों की चिंता न तो सपा सरकार करती है और न ही बसपा सरकार। उन्होंने कहा कि हम ’सबका साथ, सबका विकास' की अवधारणा पर काम करते हुए समाज के सभी वर्गों के कल्याण के लिए कृतसंकल्पित हैं।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री, श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्त्व में भारतीय जनता पार्टी ने देश को एक निर्णायक सरकार देने का काम किया है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने वर्षों से लंबित समस्याओं के पूर्ण समाधान के लिए कई निर्णय लिए हैं और दृढ़ राजनीतिक इच्छाशक्ति के साथ जनोपयोगी योजनाओं को समाज के अंतिम छोर पर खड़े व्यक्ति तक पहुंचाने का प्रयास किया है।

केंद्र की पिछली कांग्रेस सरकार पर तंज कसते हुए श्री शाह ने कहा कि कांग्रेस-नीत यूपीए सरकार भ्रष्टाचार और घोटालों की सरकार थी। उन्होंने कहा कि यूपीए शासनकाल में 12 लाख करोड़ रुपये के भ्रष्टाचार और घोटाले हुए जबकि मोदी सरकार के दो वर्षों के शासनकाल में हमपर भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं लग सका है। उन्होंने कहा कि अटल जी के सरकार के समय पूरी दुनिया यह मानने लगी थी कि 21वीं सदी भारत की सदी है लेकिन कांग्रेस के यूपीए-1 और यूपीए-2 सरकारों के समय भारत की विकास गाथा पूरी तरह से ख़त्म हो गई। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के आने के साथ ही हमने यूपीए के समय बने घोर निराशा के माहौल को बदलने में सफलता पाई है और आज पूरी दुनिया फिर से यह मानने लगी है कि 21वीं सदी भारत की सदी है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि हमने शहरों और गाँवों के एक समान विकास पर संतुलन बनाते हुए देश के सर्वांगीण विकास पर एक साथ ध्यान केन्द्रित किया है, इकॉनोमिक रिफॉर्म्स और जन-कल्याण की योजनाओं के बीच के द्वंद्व को समाप्त करते हुए हमने विकास योजनाओं को समाज के अंतिम छोर पर खड़े व्यक्ति तक पहुंचाने में सफलता पाई है, उद्योग एवं कृषि के विकास पर एक समान बल दिया है और रक्षा नीति एवं विदेश नीति के बीच बेहतर सामंजस्य स्थापित किया है। उन्होंने कहा कि हमने देश के संघीय ढाँचे को मजबूत करने का काम किया है और देश को पालिसी पैरालिसिस की स्थिति से बाहर निकाला है।

श्री शाह ने कहा कि हमने देश के गाँव, गरीब, किसान, दलित, आदिवासी, पिछड़े, शोषित, युवा और मजदूरों की भलाई के लिए कई जनोपयोगी योजनाओं को लागू किया है, हमने इन दो वर्षों में हर 15 दिन में एक नया इनिशिएटिव लिया, उसे सही ढंग से जमीन पर उतारने का काम किया जिसका परिणाम यह रहा कि 2015 का वर्ष भारत के लिए कई मामलों में रिकॉर्ड तोड़ने वाला साल रहा है। उन्होंने कहा कि 2015 में भारत में आजादी के बाद सबसे ज्यादा यूरिया खाद का उत्पादन हुआ, सबसे ज्यादा मिश्रित ईंधन के रूप में एथेनोल का उत्पादन हुआ, सबसे ज्यादा घरेलू गैस कनेक्शन जारी किए गए, सबसे ज्यादा कोयले का उत्पादन हुआ, सबसे ज्यादा बिजली उत्पादन हुआ, बड़े बंदरगाहों से सबसे ज्यादा मात्रा में सामान की आवाजाही हुई, सबसे ज्यादा रेलवे पूंजी लागत में बढ़ोत्तरी हासिल की गई, सबसे ज्यादा हाइवे का निर्माण किया गया, सबसे ज्यादा मोटर गाड़ी का उत्पादन किया गया, सबसे ज्यादा साफ्टवेयर का निर्यात किया गया, वर्ल्ड बैंक डूइंग बिजनेस इंडिकेटर्स के मामले में अब तक की सबसे अच्छी रैंकिंग हासिल की और सबसे ज्यादा विदेशी मुद्रा भंडार अर्जित किया गया। उन्होंने कहा कि भारत पिछले दो वर्षों से लगातार विश्व की सबसे तेज गति से विकास करनेवाली अर्थव्यवस्था बनी हुई है, हमने पिछली तिमाही में 7.9% की विकास दर हासिल की जो अपने आप में एक रिकॉर्ड है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि उत्तर प्रदेश की जनता को सपा-बसपा के द्वंद्व से बाहर निकलना होगा। उन्होंने कहा कि यदि उत्तर प्रदेश का ग्रोथ रेट डबल डिजिट में पहुंचा तो निश्चित रूप से देश का ग्रोथ रेट भी डबल डिजिट में होगा। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के विकास के बिना देश का विकास संभव ही नहीं है। उन्होंने कहा कि भाजपा शासित राज्यों ने विकास को समाज के अंतिम छोर पर खड़े व्यक्ति तक पहुंचाने का काम किया है। उन्होंने उत्तर प्रदेश की जनता से अपील करते हुए कहा कि राज्य की जनता को एक बार उत्तर प्रदेश में भाजपा को दो तिहाई बहुमत से विजयी बनाकर शासन का मौक़ा देना चाहिए, हम विश्वास दिलाते हैं कि हम उत्तर प्रदेश को विकास के पथ पर आगे बढाने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ेंगें।

Download PDF