Salient Points : Speech by BJP National President, Shri Amit Shah on the Occasion of Bhoomi Poojan of BJP's New Head Office

Thursday, 18 August 2016


भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष, श्री अमित शाह द्वारा भाजपा के नए केंद्रीय कार्यालय के भूमि पूजन के अवसर पर दिए गए उद्बोधन के मुख्य बिंदु


जब प्रधानमंत्री, श्री नरेन्द्र मोदी के रूप में हमारे पास विश्व का सर्वाधिक लोकप्रिय नेता मौजूद है तो हमारा यह दायित्त्व बनता है कि हम आमजन की आशाओं और आकांक्षाओं पर खरे उतरें और पार्टी को मिल रहे व्यापक जनसमर्थन को स्थायित्व प्रदान करें:अमित शाह
************
प्रधानमंत्री जी की व्यापक लोकप्रियता, संगठन की शक्ति और पार्टी की विचारधारा का ही परिणाम है कि आज लोगों के अपार जन-समर्थन से केंद्र में पूर्ण बहुमत की सरकार के अलावा देश के 12 राज्यों में हमारी सरकारें हैं:अमित शाह
************
1950 से लेकर 2016 तक का सफ़र अनेकानेक कार्यकर्ताओं के त्याग, तपस्या, बलिदान और अथक परिश्रम की यात्रा रही है:अमित शाह
************
10 सदस्यों के साथ शुरू हुई पार्टी लगभग 11 करोड़ से अधिक सदस्यों के साथ आज विश्व की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी है:अमित शाह
************
आज जो पार्टी का वैभव है, वह केवल कुछ सालों के संघर्ष से प्राप्त नहीं हुआ है बल्कि यह कई ओजस्वी नेताओं और हजारों नाम-अनाम कार्यकर्ताओं के त्याग और बलिदान से प्राप्त हुआ है:अमित शाह
************
पार्टी की मूल विचारधारा और सिद्धांतों पर चलते हुए हमें समय के साथ अपनी कार्यशैली में बदलाव करना होगा:अमित शाह
************
1950 से 2016 तक की हमारी यात्रा भले ही त्याग, बलिदान, संघर्षों और कठिन परिश्रम की यात्रा रही हो पर हमें आज इस बात की खुशी है कि देश को आगे ले जाने के लिए भारतीय जनता पार्टी जरिया बनती हुई दिखाई दे रही है:अमित शाह
************

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष, श्री अमित शाह की अध्यक्षता में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के कर-कमलों द्वारा आज, गुरुवार को रक्षाबंधन के पावन पर्व के दिन नई दिल्ली के पंडित दीन दयाल उपाध्याय मार्ग पर भाजपा के नए केन्द्रीय कार्यालय का भूमि पूजन कार्यक्रम संपन्न हुआ। भाजपा अध्यक्ष ने इस पवित्र अवसर पर पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कार्यकर्ताओं से संगठन और विचारधारा का विस्तार करने के साथ-साथ भारत को विश्वगुरु के रूप में प्रतिष्ठित करने में अपनी महती भूमिका निभाने का भी आह्वान किया।
भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि 1950 से लेकर 2016 तक का सफ़र अनेकानेक कार्यकर्ताओं के त्याग, तपस्या, बलिदान और अथक परिश्रम की यात्रा रही है। उन्होंने कहा कि 10 सदस्यों के साथ शुरू हुई पार्टी लगभग 11 करोड़ से अधिक सदस्यों के साथ आज विश्व की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी है, वर्तमान में पार्टी के 1000 से अधिक विधायक हैं, 300 से ज्यादा सांसद हैं, इतना ही नहीं 30 सालों बाद पहली बार केंद्र में एक गैर-कांग्रेसी पूर्ण बहुमत की सरकार प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्त्व में देश के विकास और दलित, पिछड़े, गरीब, किसान और युवाओं की भलाई के लिए काम कर रही है। उन्होंने कहा कि आज जो पार्टी का वैभव है, वह केवल कुछ सालों के संघर्ष से प्राप्त नहीं हुआ है बल्कि यह 1950 से 2016 तक डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी, पंडित दीन दयाल उपाध्याय, श्री अटल बिहारी वाजपयी, श्री लालकृष्ण आडवाणी, श्री कुशाभाऊ ठाकरे, श्री नानाजी देशमुख जी जैसे कई ओजस्वी नेताओं और हजारों नाम-अनाम कार्यकर्ताओं के त्याग और बलिदान से प्राप्त हुआ है।
श्री शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री जी की व्यापक लोकप्रियता, संगठन की शक्ति और पार्टी की विचारधारा का ही परिणाम है कि आज लोगों के अपार जन-समर्थन से केंद्र में पूर्ण बहुमत की सरकार के अलावा देश के 13 राज्यों में हमारी सरकारें हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र में सरकार बनने के ढ़ाई साल बाद भी सरकार की लोकप्रियता ठीक वैसी ही है जैसी 2014 में सरकार बनते वक्त थी। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं का आह्वान करते हुए कहा कि जब प्रधानमंत्री, श्री नरेन्द्र मोदी के रूप में हमारे पास विश्व का सर्वाधिक लोकप्रिय नेता मौजूद है तो हमारा यह दायित्त्व बनता है कि हम आमजन की आशाओं और आकांक्षाओं पर खरे उतरें और पार्टी को मिल रहे व्यापक जनसमर्थन को स्थायित्व प्रदान करें। उन्होंने कार्यकर्ताओं से अपील करते हुए कहा कि आज हम सब प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्त्व में यह तय करें कि भारतीय जनता पार्टी का यह स्वर्णिम काल हमारा सर्वोच्च नहीं है, यह केवल आज की उपलब्धियों से संतुष्ट होने का समय नहीं है, बल्कि हमें इससे भी काफी आगे बढ़ना है। भाजपा अध्यक्ष ने पार्टी की कार्यपद्धति के आधुनिकीकरण पर विस्तार से चर्चा करते हुए कहा कि संगठन के और व्यापक विस्तार, कार्यकर्ताओं और देश की जनता के साथ सीधे जुड़ाव के लिए भारतीय जनता पार्टी ने निर्णय लिया है कि देश के सभी 525 संगठनात्मक जिलों में पार्टी का अपना सभी सुविधाओं से सुसज्जित एक अत्याधुनिक कार्यालय होना चाहिए। उन्होंने कहा कि इसमे से 250 से ज्यादा जिले में कार्यालय के लिए भूमि खरीदी जा चुकी है। उन्होंने कहा कि पार्टी की मूल विचारधारा और सिद्धांतों पर चलते हुए हमें समय के साथ अपनी कार्यशैली में बदलाव करना होगा, हमें अपने-आप को तकनीक से जोड़ना होगा। उन्होंने कहा कि हर जिले के कार्यालय की रचना ऐसे की जायेगी कि कन्याकुमारी से लेकर सुदूर अरुणाचल के जिले के कार्यालय में भी वीडियो कांफ्रेंसिंग की सुविधा होगी। उन्होंने कहा कि इतना ही नहीं, पार्टी के इतिहास को समाहित कर 1950 से लेकर 2014 तक के पार्टी के ऐतिहासिक घटना चक्रों, कार्यक्रमों, जन-आन्दोलनों के डॉक्यूमेंटेशन पर तेज गति से काम चल रहा है ताकि आने वाली पीढ़ी भारतीय जनता पार्टी की विचारधारा, कार्यसंस्कृति और हजारों नेताओं, कार्यकर्ताओं के निःस्वार्थ त्याग और बलिदान से प्रेरणा ले सके। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में मंडल स्तर तक के कार्यक्रमों के भी डॉक्यूमेंटेशन की योजना है। उन्होंने कहा कि भाजपा का नया केन्द्रीय कार्यालय देश के हर जिले, हर मंडल के कार्यालय के द्वारा अपने कार्यकर्ताओं से सीधे संपर्क में रहेगा। उन्होंने कहा कि हमने लगभग डेढ़ वर्षों में लगभग 9 लाख से अधिक कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित करने का काम पूरा कर लिया है जो कि एक अच्छा प्रयास है। उन्होंने कहा कि इस नए केन्द्रीय कार्यालय में एक अत्याधुनिक लाइब्रेरी भी होगी जिसे देश भर के भाजपा कार्यालयों के साथ जोड़ा जाएगा।
श्री शाह ने कहा कि रक्षाबंधन के पावन अवसर पर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के कर-कमलों द्वारा भारतीय जनता पार्टी के नए मुख्यालय का भूमि पूजन हमने आज किया है, मैं इस पावन अवसर पर प्रभु से प्रार्थना करता हूँ कि 1950 से 2016 तक की हमारी यात्रा भले ही त्याग, बलिदान, संघर्षों और कठिन परिश्रम की यात्रा रही हो पर हमें आज इस बात की खुशी है कि देश को आगे ले जाने के लिए भारतीय जनता पार्टी जरिया बनती हुई दिखाई दे रही है। उन्होंने कहा कि पार्टी को काफी यश भी इस दौरान मिला है। उन्होंने कहा कि मुझे विश्वास है कि यह मुख्यालय आने वाले अनेक सालों तक पार्टी को इससे भी ज्यादा यशस्वी, सफल और विजयी बनाने का माध्यम बनेगा, यहीं से पूरे देश के कार्यक्रमों का रेखांकन होगा, यहीं से पार्टी की कार्यपद्धति की संरचना होगी और यहीं से देश भर के पार्टी कार्यकर्ता प्रशिक्षित और संस्कारित होकर पार्टी की विचारधारा को आगे बढ़ायेंगें। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं की ओर से पार्टी के निमंत्रण पर आये सभी पूर्व पार्टी अध्यक्षों का स्वागत किया और उनके द्वारा किये गए कार्यों को भी याद किया।

Download PDF